CameraIcon
CameraIcon
SearchIcon
MyQuestionIcon


Question

73. Consider the following statements:
1. The constitution of India can be amended only by a special majority in either house of the parliament
2. Constitutional amendment falls in the exclusive domain of the parliament of India
Which of the statements given above is/are correct?

निम्नलिखित कथनों पर विचार करें:
1. भारत के संविधान में संसद के दोनों सदन द्वारा विशेष बहुमत से ही संशोधन किया जा सकता है।
2. संवैधानिक संशोधन भारतीय संसद के अनन्य अधिकार-क्षेत्र के अंतर्गत आता है।
ऊपर दिए गए कथनों में कौन सा/से सही है / हैं?


A
1 only

केवल 3
loader
B
2 only

केवल 2
loader
C
Both 1 and 2

केवल 1 और 2
loader
D
Neither 1 nor 2

न तो 1 न ही 2
loader

Solution

The correct option is D Neither 1 nor 2

न तो 1 न ही 2
Statement 1 is incorrect Some parts of the constitution can be amended like an ordinary bill. Statement 2 is incorrect Some parts can be amended only by a special majority of the Parliament and with the ratification by half of the total states.
Extra Information:
The Constitution of India is neither rigid nor flexible but a synthesis of both. Article 368 provides for two types of amendments:
a) Some provisions can be amended by a special majority of the Parliament, i.e., a two-third majority of the members of each House present and voting, and a majority (that is, more than 50 per cent), of the total membership of each House.
b) Some other provisions can be amended by a special majority of the Parliament and with the ratification by half of the total states. At the same time, some provisions of the Constitution can be amended by a simple majority of the Parliament in the manner of ordinary legislative process.

कथन 1 गलत है संविधान के कुछ भागों को एक सामान्य/आम बिल की तरह संशोधित किया जा सकता है। कथन 2 गलत है कुछ भागों को केवल संसद के विशेष बहुमत और कुल राज्यों के आधे भाग के अनुसमर्थन से संशोधित किया जा सकता है।
अतिरिक्त जानकारी:
भारत का संविधान न तो सख्त है और ना ही लचीला लेकिन दोनों का मिश्रण है। अनुच्छेद 368 में दो प्रकार के संशोधन दिए गए हैं: क) कुछ प्रावधानों को संसद के विशेष बहुमत द्वारा संशोधित किया जा सकता है यानी, उपस्थित और मतदान करने वाले प्रत्येक सदन के दो-तिहाई सदस्य और प्रत्येक सदन की कुल सदस्यता का बहुमत (यानी 50 प्रतिशत से अधिक)। ख) संसद के विशेष बहुमत और कुल राज्यों के आधे हिस्से के अनुसमर्थन के साथ कुछ अन्य प्रावधानों में संशोधन किया जा सकता है। इसी समय संविधान के कुछ प्रावधानों को साधारण विधायी प्रक्रिया से संसद के साधारण बहुमत द्वारा संशोधित किया जा सकता है।

All India Test Series

Suggest Corrections
thumbs-up
 
0


similar_icon
Similar questions
View More



footer-image