CameraIcon
CameraIcon
SearchIcon
MyQuestionIcon


Question

Passage

When Theodore Roosevelt was in the White House, he confessed that if he could be right 75 per cent of the time, he would reach the highest measure of his expectation. If that was the highest rating that one of the most distinguished men of the twentieth century could hope to obtain, what about you and me? We hardly consider ourselves wrong. If you can be sure of being right only 55 per cent of the time, you can go down to Wall Street and make a million dollars a day.

Q. What is the most logical, rational and crucial message that is implied in the above passage?

जब थियोडोर रूजवेल्ट व्हाइट हाउस में थे, तब उन्होंने स्वीकार किया कि वह 75 प्रतिशत बार सही हो सकने पर ही अपनी अपेक्षाओं की उच्चतम सीमा तक पहुंच सकते हैं। अगर वह ऐसी उच्चतम रेटिंग थी जिसे प्राप्त करने के संबंध में बीसवीं सदी के सबसे प्रतिष्ठित पुरुषों में से एक आशान्वित हो सकता था, तो आपकी और हमारी बिसात ही क्या है? हम शायद ही स्वयं को कभी गलत मानते हैं। यदि आप 55 प्रतिशत बार भी सही होने के संबंध में आश्वस्त हों तो आप वॉल स्ट्रीट जा कर एक दिन में कई मिलियन डॉलर कमा सकते हैं।

Q. उपर्युक्त परिच्छेद में निहित सर्वाधिक तार्किक, विवेकपूर्ण और महत्वपूर्ण संदेश क्या है?
  1. For a human being it is futile to strive for perfection.

    मनुष्य के लिए सर्वोत्कृष्टता का प्रयास करना व्यर्थ है।
  2. One should be receptive in admitting ones mistakes.

    व्यक्ति को अपनी गलतियों को स्वीकार करने के लिए तत्पर होना चाहिए।
  3. Honesty is the best policy, especially in politics.

    ईमानदारी सबसे अच्छी नीति है, विशेष रूप से राजनीति में।
  4. Truth is the cardinal virtue which exists in humanity.

    सत्य मानवता का मौलिक सद्गुण है।


Solution

The correct option is B One should be receptive in admitting ones mistakes.

व्यक्ति को अपनी गलतियों को स्वीकार करने के लिए तत्पर होना चाहिए।
The passage discusses how a great person such as Theodore Roosevelt admitted that he can also err. Therefore, the message here is that one should admit one’s mistakes. Therefore, Option (b) is the correct answer.
Option (a) is incorrect because author is not suggesting that one should not work for achieving perfection. Author only says that one should accept one’e mistakes. Option (c) is incorrect because thought Roosevelt was honest in accepting his mistakes, here honesty and its utility in politics are not discussed. Option (d) is also incorrect because truth as a cardinal virtue is not the central idea of this passage.

परिच्छेद इस बात की चर्चा करता है कि किस प्रकार थियोडोर रूजवेल्ट जैसे एक महान व्यक्ति ने स्वीकार किया कि वह भी गलती कर सकते हैं। इसलिए, यहाँ यह संदेश दिया जा रहा है कि व्यक्ति को अपनी गलती स्वीकार करनी चाहिए। इसलिए विकल्प (b) सही उत्तर है।
विकल्प (a) ग़लत है क्योंकि लेखक यह सुझाव नहीं दे रहा है कि व्यक्ति को सर्वोत्कृष्टता प्राप्त करने का प्रयास नहीं करना चाहिए। लेखक केवल यह कहता है कि व्यक्ति को अपनी गलतियाँ स्वीकार करनी चाहिए। विकल्प (c) ग़लत है क्योंकि, यद्यपि रूजवेल्ट अपनी गलतियों को स्वीकार करने में ईमानदार थे किन्तु यहाँ राजनीति में ईमानदारी और उसकी उपयोगिता के संबंध में चर्चा नहीं की गई है। विकल्प (d) भी ग़लत है क्योंकि सत्य के मानवता का मौलिक सद्गुण होने का तथ्य इस परिच्छेद का केन्द्रीय विचार नहीं है।

flag
 Suggest corrections
thumbs-up
 
0 Upvotes


Similar questions
View More



footer-image