CameraIcon
CameraIcon
SearchIcon
MyQuestionIcon


Question

Q. Consider the following statements regarding the Tripuri Session of Congress in 1939?
  1. The session was presided over by Pattabhi Sitaramayya after Subhash Chandra Bose resigned as President. 
  2. Indian States Peoples’ Resolution was passed by the Congress in support of people’s movements in the princely States.
  3. Subhash Chandra Bose presided over two consecutive sessions of the INC in 1938 and 1939.
Which of the statement(s) given above is/are correct?

Q. कांग्रेस के त्रिपुरी अधिवेशन 1939 के बारे में निम्नलिखित कथनों पर विचार करें।
  1. अधिवेशन की अध्यक्षता पट्टाभि सीतारमैया ने की थी, सुभाष चंद्र बोस ने अध्यक्ष के रूप में इस्तीफा दे दिया था।
  2. रियासतों की जनता के आंदोलन के समर्थन में कांग्रेस ने एक प्रस्ताव पारित किया।
  3. सुभाष चंद्र बोस ने 1938 और 1939 में कांग्रेस के लगातार दो सत्रों की अध्यक्षता की।

 

  1. 1 only 
    केवल 1

  2. 1 and 2 only
    केवल 1 और 2

  3. 1 and 3 only
    केवल 1और 3

  4. 3 only
    केवल 3


Solution

The correct option is D
3 only
केवल 3

Explanation: 

Statement 1 is incorrect: The Presidency was taken over by Rajendra Prasad after the resignation of Subhash Chandra Bose (initially he won the election).

Statement 2 is incorrect: Indian States Peoples resolution was passed in Haripura session of Congress (1938).

Statement 3 is correct: Subhash Chandra Bose presided over two consecutive sessions of the INC in 1938(Haripura) and 1939 (Tripuri).

Explainer’s Perspective

The Tripuri session is famous for the highly contested presidential election between Subhash Chandra Bose and Pattabhi Sitaramayya, which was won by the former. It is very unlikely that the presidency is taken over by a person who lost the election in the first place. As a matter of fact, the Presidency was taken over by Rajendra Prasad after the resignation of Subhash Chandra Bose. Thus, Statement 1 is incorrect and the only option remaining is (d).

स्पष्टीकरण:

कथन 1 गलत है: सुभाष चंद्र बोस (शुरू में उन्होंने चुनाव जीता था) के इस्तीफे के बाद राजेंद्र प्रसाद ने अध्यक्ष पद ग्रहण किया था।

कथन 2 गलत है: भारतीय राज्य पीपुल्स प्रस्ताव कांग्रेस के हरिपुरा अधिवेशन (1938) में पारित किया गया था। 

कथन 3 सही है: सुभाष चंद्र बोस ने हरिपुरा (1938) और त्रिपुरी (1939) में कांग्रेस के लगातार दो अधिवेशनों की अध्यक्षता की थी।

एक्सप्लेनर परिप्रेक्ष्य:

त्रिपुरी अधिवेशन, सुभाषचंद्र बोस और पट्टाभी सितारमैय्या के बीच अध्यक्ष के चुनाव के कारण अत्यधिक चर्चा में था।यह संभव नहीं था कि अध्यक्ष पद [पर वह व्यक्ति निर्वाचित हो जो पहले ही चुनाव हार गया हो।वास्तव में, सुभाष चन्द्र बोस के इस्तीफे के बाद राजेंद्र प्रसाद ने अध्यक्ष पद को ग्रहण किया।इस प्रकार, कथन 1 असत्य है और एकमात्र विकल्प d शेष है।

flag
 Suggest corrections
thumbs-up
 
0 Upvotes


Similar questions
View More



footer-image