CameraIcon
CameraIcon
SearchIcon
MyQuestionIcon


Question

Q. निम्नलिखित विशेषताओं पर विचार कीजिए:
  1. न्यायपालिका की स्वतंत्रता
  2. संविधान का लचीलापन
  3. संविधान की सर्वोच्चता
  4. द्विस्तरीय सरकार
उपर्युक्त में से कौन-सी विशेषताएँ भारत में संघवाद के सिद्धांत को बढ़ावा देती हैं?

  1. केवल 2, 3 और 4

  2. केवल 1, 3 और 4

  3. केवल 3 और 4

  4. केवल 1, 2 और 4


Solution

The correct option is B
केवल 1, 3 और 4
व्याख्या:

कथन 1, 3 और 4 सही हैं:
भारतीय संघ की संघीय विशेषताएँ निम्नलिखित हैं:
  • दो स्तरों (यथा केंद्र और राज्य) पर सरकार।
  • केंद्र और राज्यों के मध्य शक्तियों का विभाजन- संविधान की सातवीं अनुसूची में तीन सूचियों का उल्लेख किया गया हैं, जो प्रत्येक स्तर जैसे: संघ सूची, राज्य सूची और समवर्ती सूची को संबंधित विषयों पर अधिकार क्षेत्र प्रदान करती हैं।
  • संविधान की सर्वोच्चता।
  • स्वतंत्र न्यायपालिका- संविधान के अंतर्गत एक स्वतंत्र और एकीकृत न्यायपालिका का उल्लेख किया गया है। निचली और जिला अदालतें निचले स्तर पर, उच्च न्यायालय राज्य स्तर पर तथा उच्च स्तर पर भारत का उच्चतम न्यायालय कार्य करता है। भारत के सभी न्यायालय उच्चतम न्यायालय के अधीन हैं।
कथन 2 गलत है:
भारतीय संघ की एकात्मक विशेषताएं:
  • संविधान का लचीलापन- भारत के संविधान में लचीलापन एवं कठोरता का समिश्रण है। संविधान के कुछ प्रावधानों को सरलता से संशोधित किया जा सकता है। यदि किसी संशोधन का उद्देश्य भारत में संघवाद की प्रवृति में बदलाव करना है, तब उस संशोधन को पारित करना सरल नहीं होता है। अतः कथन 2 सही नहीं है।
  • केंद्र में अधिक शक्ति निहित है- संविधान द्वारा संघ सूची के अंतर्गत अधिक शक्तियों को सुनिश्चित किया गया है। समवर्ती सूची के अंतर्गत संसद द्वारा विधि का निर्माण कर राज्य विधायिका द्वारा निर्मित कानूनों को अधिभूत किया जा सकता है। इसके अतिरिक्त संसद को राज्य सूची के कुछ विषयों पर भी कानून बनाने का अधिकार प्राप्त है।
  • राज्य सभा में राज्यों का असमान प्रतिनिधित्व।

flag
 Suggest corrections
thumbs-up
 
0 Upvotes


Similar questions
QuestionImage
QuestionImage
View More...



footer-image