CameraIcon
CameraIcon
SearchIcon
MyQuestionIcon


Question

Q. सिंधु घाटी के "मुहरों" के संदर्भ में निम्नलिखित कथनों पर विचार करें।
  1. मुहरों में इस्तेमाल होने वाली आम सामग्री कांस्य थी।
  2. मुहर बनाने का उद्देश्य मुख्य रूप से वाणिज्यिक था।
  3. मुहरों में सिंधु घाटी लिपि के प्रमाण हैं।
ऊपरोक्त  कथनों में कौन सा/से कथन सही है/हैं?

  1. केवल 1और 3

  2. केवल 1

  3. केवल 2और 3

  4. 1,2और 3


Solution

The correct option is C
केवल 2और 3
व्याख्या:

कथन 1 असत्य है:  पुरातत्ववेत्ताओं ने हज़ारों मुहरों की खोज की है जो प्राय: सेलखड़ी से बनी थीं और कभी कभी ये गोमेद, शीस्ट, कांस्य, चीनी मिट्टी और टेराकोटा से बने होते थे जिसमें  बैल, गेंडा, हाथी, बकरी, भैंस आदि जैसे पशुओं की सुंदर आकृतियां बनी होती थी।

कथन 2 सत्य है:  मुहरों को बनाने का उद्देश्य मुख्य रूप से वाणिज्यिक था।हालांकि मुहरों का धार्मिक और व्यावसायिक उद्देश्य था।उदाहरण स्वरूप पशुपति की  मुहर में एक मनुष्य की आकृति का प्रतिपालनस्थ अवस्था में चित्रित किया गया है,आकृति के दायीं ओर हाथी और शेर का चित्र बनाया गया है जबकि बायीं ओर एक गैंडा और एक भैंस दिखाई देता है।इन जानवरों के अलावा दो हिरन भी दिखाई देते हैं।

कथन 3 सत्य है:  प्रत्येक मुहर को सिंधु लिपि में उभारा गया है। यह एक चित्रमय लिपि है, जिसको अभी भी समझना बाकी है।

flag
 Suggest corrections
thumbs-up
 
0 Upvotes


Similar questions
View More



footer-image