CameraIcon
CameraIcon
SearchIcon
MyQuestionIcon


Question

Q. Which one of the following statements is incorrect about the Nutrient Based Subsidy (NBS) scheme, recently seen in the news?

Q. हाल ही में खबरों में रही न्यूट्रिएंट बेस्ड सब्सिडी (एनबीएस) योजना के बारे में निम्नलिखित में से कौन सा कथन गलत है?


Correct Answer
A

The scheme provides subsidies based on the soil health and size of the land holding.
यह योजना मृदा स्वास्थ्य और भूमि के आकार के आधार पर सब्सिडी प्रदान करती है।
Your Answer
B

The Cabinet Committee on Economic Affairs determines the final subsidy rate under the scheme.
आर्थिक मामलों की मंत्रिमंडलीय समिति योजना के तहत अंतिम सब्सिडी दर निर्धारित करती है।
Your Answer
C

It provides a fixed subsidy on each grade of phosphatic and potassic (P&K) fertilisers.
यह फॉस्फेटिक और पोटैसिक (P & K) उर्वरकों के प्रत्येक ग्रेड पर एक निश्चित सब्सिडी प्रदान करता है।
Your Answer
D

Under the scheme, subsidies are directed to fertilizer manufacturers/importers.
योजना के तहत सब्सिडी उर्वरक निर्माताओं / आयातकों को प्रदान की जाती है।

Solution

The correct option is A
The scheme provides subsidies based on the soil health and size of the land holding.
यह योजना मृदा स्वास्थ्य और भूमि के आकार के आधार पर सब्सिडी प्रदान करती है।
Explanation:

Recently the Cabinet has approved Nutrient Based Subsidy Rates.

Option (a) is incorrect:  The Nutrient Based Subsidy scheme provides subsidy based on the nutrient content present in Phosphatic and Potassic (P&K) fertilizers, except for Urea on an annual basis. In India, urea is the only controlled fertilizer and is sold at a statutory notified uniform sale price.

Option (b) is correct: The scheme allows the manufacturers, marketers, and importers to fix the MRP of the Phosphatic and Potassic fertilizers at reasonable levels. The Cabinet Committee on Economic Affairs has the final say in determining the subsidy rate from the proposal of the Department of Fertilizers.

Option (c) is correct: It provides a fixed amount of subsidy on each grade of phosphatic and potassic (P&K) fertilisers to ensure the availability of P&K fertilizers to the farmers at an affordable price.  The expected expenditure for release of subsidy on P&K Fertilizers during 2020-21 will be Rs. 22,186.55 crore.

Option (d) is correct: Under the scheme, subsidies are not directed towards farmers but to fertilizer manufacturers/importers. The subsidy on the P&K will be provided on the subsidy rates approved by the CCEA to the fertilizer companies.

व्याख्या:

हाल ही में कैबिनेट ने पोषण (न्यूट्रिएंट) आधारित सब्सिडी दरों को मंजूरी दी है।

विकल्प (a) गलत है: पोषक तत्व आधारित सब्सिडी योजना सालाना आधार पर यूरिया को छोड़कर फॉस्फेटिक और पौटेशिक (P & K) उर्वरकों में मौजूद पोषक तत्व सामग्री के आधार पर सब्सिडी प्रदान करती है।भारत में, यूरिया एकमात्र नियंत्रित उर्वरक है,और इसे एक वैधानिक अधिसूचित समरूप  बिक्री मूल्य पर बेचा जाता है।

विकल्प (b) सही है: यह योजना निर्माताओं, विपणक, और आयातकों को उचित स्तर पर फॉस्फेटिक और पौटेशिक उर्वरकों का बाजार मूल्य  तय करने की अनुमति देती है। आर्थिक मामलों की मंत्रिमंडलीय समिति ने उर्वरक विभाग के प्रस्ताव से सब्सिडी दर का निर्धारण करने की अंतिम बात कही है।

विकल्प (c) सही है: यह किसानों को सस्ती कीमत पर फॉस्फेटिक और पौटेशिक (P & K)  उर्वरकों की उपलब्धता सुनिश्चित करने के लिए फॉस्फेटिक और पौटेशिक (पीएंडके) उर्वरकों के प्रत्येक ग्रेड पर सब्सिडी की एक निश्चित राशि प्रदान करता है। 2020-21 के दौरान फॉस्फेटिक और पोटैसिक (P & K)  फर्टिलाइजर्स पर सब्सिडी जारी करने का अपेक्षित खर्च 22,186.55 करोड़ रुपये होगा।

विकल्प (d) सही है: योजना के तहत, सब्सिडी किसानों के लिए नहीं बल्कि उर्वरक निर्माताओं / आयातकों को प्रदान की जाती है। उर्वरक कंपनियों को CCAA द्वारा अनुमोदित सब्सिडी दरों पर फॉस्फेटिक और पौटेशिक (P & K)  पर सब्सिडी प्रदान की जाएगी।

flag
 Suggest corrections
thumbs-up
 
0 Upvotes


Similar questions
View More



footer-image