CameraIcon
CameraIcon
SearchIcon
MyQuestionIcon


Question

Q. With reference to Algae, consider the following statements: Which of the above given statements are correct?

Q. शैवाल के संदर्भ में, निम्नलिखित कथनों पर विचार करें: उपर्युक्त कथनों में से कौन से सही हैं ?


A

1, 2 and 4 only
केवल 1, 2 और 4 
loader
B

2 and 4 only
केवल 2 और 4
loader
C

1, 3 and 4 only
केवल 1, 3 और 4
loader
D

1, 2 and 3 only
केवल 1, 2 और 3
loader

Solution

The correct option is B
1, 2 and 3 only
केवल 1, 2 और 3
Explanation:

Algae is a term describing a small and extremely diverse community of eukaryotic, photosynthetic forms of life. Such species do not share a common ancestor, and thus are not (polyphyletic) related to each other

Statement 1 is correct: Algae flourish in nutrient-rich waters such as urban wastewater (sewage), animal waste and some industrial effluents, while at the same time purifying such waste and creating a biomass suitable for biofuels.

Statement 2 is correct: Algae produce a variety of base materials that can be used for bioplastics production. Most important are carbohydrates and hydrocarbons.

Statement 3 is correct: Like trees, algae can naturally sequester carbon dioxide. Trees "consume carbon" as a part of their photosynthesis process by "absorbing" carbon into their trunks and roots and releasing oxygen back into the air. Algae is replicating the same process. Because of their carbon sequestration ability, microalgae are being endeavoured as biofactories for the sequestration of carbon dioxide.

Statement 4 is incorrect: Algae exist in environments ranging from oceans, rivers, and lakes to ponds, brackish waters, and even snow. Usually green in color, algae can be found in range colors. For instance, algae living in snow contain carotenoid pigments in addition to chlorophyll, hence giving the surrounding snow a distinctive red hue.

व्याख्या :

 शैवाल एक ऐसा टर्म है जो  जीवन के प्रकाश संश्लेषक रूपों, यूकेरियोटिक के एक छोटे और अत्यंत विविध समुदाय का वर्णन करता है।
ऐसी प्रजातियों के पूर्वज एक नहीं होते हैं , और इस तरह ये एक दूसरे से संबंधित (पॉलीफ़ायलेटिक) नहीं हैं।

कथन 1 सही है: शैवाल पोषक तत्वों से भरपूर पानी जैसे कि शहरी अपशिष्ट जल (सीवेज), पशु अपशिष्ट और कुछ औद्योगिक अपशिष्टों में पनपते हैं, साथ ही   इस तरह के कचरे को शुद्ध भी करते हैं और जैव ईंधन के लिए उपयुक्त बायोमास बनाते हैं।

कथन 2 सही है: शैवाल विभिन्न प्रकार की आधार सामग्री का उत्पादन करते हैं  जिसका उपयोग बायोप्लास्टिक उत्पादन के लिए किया जा सकता है। सबसे महत्त्वपूर्ण  कार्बोहाइड्रेट और हाइड्रोकार्बन हैं।

कथन 3 सही है: पेड़ों की तरह, शैवाल स्वाभाविक रूप से कार्बन डाइऑक्साइड को अवशोषित  कर सकते हैं।पेड़ अपनी प्रकाश संश्लेषण प्रक्रिया के एक हिस्से के रूप में "कार्बन का उपभोग करते हैं" कार्बन को अपने तनों और जड़ों के द्वारा "अवशोषित" करते हैं और हवा में वापस ऑक्सीजन छोड़ते हैं। शैवाल भी इसी प्रक्रिया का अनुसरण करता है।  कार्बन अवशोषण की क्षमता के कारण, माइक्रो शैवाल को कार्बन डाइऑक्साइड के अनुक्रमीकरण के लिए जैव ईंधन के रूप में प्रयोग किया जा रहा है।

कथन 4 गलत है: शैवाल महासागरों, नदियों, और झीलों से लेकर तालाबों, खारे पानी और यहाँ तक कि बर्फ में भी  पाया जाता है। आमतौर पर हरे रंग में पाया जाने वाला शैवाल कई रंगों में पाया जा सकता है। उदाहरण के लिए, बर्फ में उगने  वाले शैवाल में क्लोरोफिल के अलावा कैरोटीनॉयड वर्णक होता है, जो आसपास की बर्फ को एक विशिष्ट लाल रंग देता है।

All India Test Series

Suggest Corrections
thumbs-up
 
0


similar_icon
Similar questions
View More



footer-image