CameraIcon
CameraIcon
SearchIcon
MyQuestionIcon


Question

Q. With reference to desert ecosystems, which of the following characteristics help the fauna in surviving the extremities?

1. They have short legs to ensure swift movements on sand.
2. They excrete concentrated urine in order to conserve water.
3. These animals typically feature large ears.

Select the correct statements from the codes given below :

Q. मरुस्थलीय पारिस्थितिकी तंत्र के संदर्भ में, निम्नलिखित विशेषताओं में से कौन सी विशेषता जंतुओं को जीवित रहने में मदद करती है?

1. इनके छोटे पैर रेत पर इनके तीव्र चलन को सुनिश्चित करते हैं।
2. ये पानी के संरक्षण के लिए कान्सन्ट्रेटिड मूत्र का उत्सर्जन करते हैं।
3. बड़े कान इन जानवरों की सामान्य विशेषता है।

नीचे दिए गए कूट में से सही कथन का चयन करें:

  1. 1 and 2 only
    केवल 1 और 2

  2. 2 only
    केवल 2

  3. 2 and 3 only
    केवल 2 और 3

  4. 1, 2 and 3
    1, 2 और 3


Solution

The correct option is C
2 and 3 only
केवल 2 और 3
The animals living in a desert environment have adapted their bodies and lifestyle in order to adapt to a warm and hot environment. They are mostly nocturnal, which ensures that they avoid the heat of the sun.

Statement 1 is incorrect:
These animals have long legs and are swift runners which ensures that their body is not touching the ground surface, which is hot. Even lizards have powerful limbs by which they virtually run on their toes without the body touching at any place.

Statement 2 is correct:
These animals excrete concentrated urine so that no amount of water is wasted through bodily discharge. Some animals do not excrete for days in order to retain the maximum amount of water that they can.

Statement 3 is correct:
These animals typically exhibit a larger ear in order to facilitate heat exchange. The ear is filled with capillaries with an increasing density as a result of which the blood flowing in that area gets naturally cooled. In larger animals the temperature change due to the ears is quite significant. Hence it is known as an animal's own thermoregulator.

मरुस्थलीय वातावरण में रहने वाले जंतु अपने शरीर और जीवन शैली को गर्म वातावरण के अनुकूल ढाल लेते हैं।ये ज्यादातर निशाचर होते हैं, जो यह सुनिश्चित करता है कि इन्हें सूरज की गर्मी ना झेलना पड़े।

कथन 1 गलत है:
इन जानवरों के पैर लंबे होते हैं और ये तेज गति से चलने वाले होते हैं, जो यह सुनिश्चित करता है कि उनका शरीर गर्म जमीन के संपर्क में ना आये।यहां तक कि छिपकलियों में भी प्रभावशाली अंग होते हैं, जिनके द्वारा वे अपने शरीर को जमीन से स्पर्श किये बिना अपने पैर की उंगलियों पर चलते हैं।

कथन 2 सही है:
ये जानवर कान्सन्ट्रेटिड मूत्र का उत्सर्जन करते हैं ताकि पानी की कोई भी मात्रा शारीरिक उत्सर्जन के माध्यम से बर्बाद न हो।कुछ जानवर पानी की अधिकतम मात्रा को बनाए रखने के लिए कई दिनों तक मूत्र का उत्सर्जन नहीं करते हैं।

कथन 3 सही है:
इन जानवर में आमतौर पर हीट एक्सचेंज की सुविधा के लिए बड़े कान होते हैं।कान केशिकाओं से भरा होता है जिसके परिणामस्वरूप उस क्षेत्र में बहने वाला रक्त स्वाभाविक रूप से ठंडा हो जाता है।बड़े जानवरों में कान के कारण तापमान में होने वाला परिवर्तन काफी महत्वपूर्ण है।इसलिए इन जानवरों को स्वयं के थर्मोरेग्यूलेटर के रूप में जाना जाता है।

flag
 Suggest corrections
thumbs-up
 
0 Upvotes


Similar questions
View More



footer-image