CameraIcon
CameraIcon
SearchIcon
MyQuestionIcon


Question

Q. With reference to emancipation of women in the Modern History, consider the following statements 

Select the correct answer using the code given below:

Q. आधुनिक इतिहास में महिलाओं की मुक्ति के संदर्भ में, निम्नलिखित कथनों पर विचार करें:

नीचे दिए गए कूट का उपयोग करके सही उत्तर चुनें:



Your Answer
A

1 and 2 only
केवल 1 और 2
Correct Answer
B

2 and 3 only
केवल 2 और 3
Your Answer
C

1 and 3 only
केवल 1 और 3
Your Answer
D

1, 2 and 3
1, 2 और 3

Solution

The correct option is C
2 and 3 only
केवल 2 और 3

Explanation:

Statement 1 is incorrect:  Pandita Ramabai founded the Sharda Sadan, a school for widows, in Bombay. Her greatest legacy was her effort to educate widows. She was also a pioneer in women’s education. 

Statement 2 is correct:  The All India Women's Conference (AIWC) founded by Margaret Cousins improved  educational efforts for women and children. The members of AIWC also took part in campaigns to strengthen working conditions for women and the right to vote for women. Several AIWC leaders were also engaged in framing of the constitution.

Statement 3 is correct: Bharat Stree Mahamandal was founded by Sarladevi Chaudhurani to promote women’s interest. The leaders of the Mahamandal saw purdah as the key stumbling block to female education and created awareness for the issues of women such as female education, child marriage, and the status of women within the family.

व्याख्या:

कथन 1 गलत है: पंडिता रमाबाई ने बॉम्बे में, विधवाओं के लिए एक स्कूल “शारदा सदन” की स्थापना की।उनकी सबसे बड़ी देन विधवाओं को शिक्षित करने का उनका प्रयास था।वह महिला शिक्षा की भी प्रणेता थीं।

कथन 2 सही है: मार्गरेट कजिन द्वारा स्थापित ऑल इंडिया वूमेंस कांफ्रेंस (AIWC) ने महिलाओं और बच्चों के लिए शैक्षिक प्रयासों में सुधार किया।AIWC के सदस्यों ने महिलाओं के लिए कार्य दशाओं में सुधार करने और महिलाओं को वोट देने के अधिकार हेतु चलाये गए अभियानों में भी भाग लिया।कई एआईडब्ल्यूसी नेता भी संविधान बनाने में लगे हुए थे। AIWC के कई नेता संविधान की रूप-रेखा बनाने में भी संलग्न थे।

कथन 3 सही है: महिलाओं के हितों को बढ़ावा देने के लिए भारत स्त्री महामंडल की स्थापना सरलादेवी चौधरानी ने की थी।महामंडल के नेताओं ने पर्दा प्रथा को महिलाओं की शिक्षा के मार्ग में  प्रमुख अवरोधक माना और महिलाओं से संबंधित मुद्दों जैसे महिला शिक्षा, बाल विवाह और परिवार के भीतर महिलाओं की स्थिति के बारे में जागरूकता पैदा की।

flag
 Suggest corrections
thumbs-up
 
0 Upvotes


Similar questions
View More



footer-image