CameraIcon
CameraIcon
SearchIcon
MyQuestionIcon


Question

Q. With reference to Fundamental Duties in Indian Constitution, consider the following statements: Which of the above given statements is/are correct? 

Q. भारतीय संविधान में मौलिक कर्तव्यों के संदर्भ में, निम्नलिखित कथनों पर विचार करें: ऊपर दिए गए कथनों में से कौन सा/से सही हैं?


A

1 only 
केवल 1
loader
B

1 and 2 only
केवल 1 और 2
loader
C

2 and 3 only
केवल 2 और 3
loader
D

3 only
केवल  3 
loader

Solution

The correct option is B
1 and 2 only
केवल 1 और 2
Explanation:

The Fundamental Duties are dealt with Article 51A under Part-IV A of the Indian Constitution.

Statement 1 is correct: The 42nd Amendment Act of 1976 added 10 Fundamental Duties to the Indian Constitution. 86th Amendment Act 2002 later added 11th Fundamental Duty to the list. Swaran Singh Committee in 1976 recommended Fundamental Duties, the necessity of which was felt during the national emergency of 1975-77 on grounds of internal disturbance.

Note: However, as a result of the 44th amendment of the constitution it is no more possible to declare national emergency on grounds of internal disturbances. Instead it can be declared on grounds of armed rebellion.

Statement 2 is correct: Fundamental Duties remind Indian Citizens of their duty towards their society, fellow citizens and the nation.
  • They warn citizens against anti-national and anti-social activities
  • They inspire citizens & promote a sense of discipline and commitment among them
  • They help the courts in examining and determining the constitutional validity of a law
  • They are enforceable by law.
Statement 3 is incorrect: The fundamental duties provide for codification of tasks to the Indian citizens and are like moral and civic duties for Indians that they should follow. These Duties are confined to Indian citizens only and do not extend to foreigners unlike few Fundamental Rights.

व्याख्या :

भारतीय संविधान के भाग- IV A के तहत मौलिक कर्तव्यों को अनुच्छेद 51A के साथ सम्बद्ध किया गया है।

कथन 1 सही है: 1976 के 42 वें संशोधन अधिनियम ने भारतीय संविधान में 10 मौलिक कर्तव्यों को जोड़ा। 86 वें संशोधन अधिनियम 2002 ने बाद में सूची में 11 वां मौलिक कर्तव्य जोड़ा। स्वर्ण सिंह समिति ने 1976 में मौलिक कर्तव्यों की सिफारिश की, जिसकी आवश्यकता 1975-77 के राष्ट्रीय आपातकाल के दौरान आंतरिक अशांति के आधार पर महसूस की गई थी।

नोट: हालांकि, संविधान के 44 वें संशोधन के परिणामस्वरूप आंतरिक गड़बड़ी के आधार पर राष्ट्रीय आपातकाल की घोषणा करना संभव नहीं है। इसके बजाय यह सशस्त्र विद्रोह के आधार पर घोषित किया जा सकता है।

कथन 2 सही है: मौलिक कर्तव्य भारतीय नागरिकों को उनके समाज, साथी नागरिकों और राष्ट्र के प्रति उनके कर्तव्य की याद दिलाते हैं।
  • वे नागरिकों को राष्ट्रविरोधी और असामाजिक गतिविधियों के खिलाफ चेतावनी देते हैं।
  • वे नागरिकों को प्रेरित करते हैं और उनके बीच अनुशासन और प्रतिबद्धता की भावना को बढ़ावा देते हैं।
  • वे कानून की संवैधानिक वैधता की जांच और निर्धारण में अदालतों की मदद करते हैं।
  • वे कानून द्वारा प्रवर्तनीय हैं।
कथन 3 गलत है: मौलिक कर्तव्य भारतीय नागरिकों को कार्यों की  संहिताकरण को प्रदान करते हैं और भारतीयों के लिए नैतिक और नागरिक कर्तव्यों के समान हैं जिनका उन्हें पालन करना चाहिए। ये कर्तव्य केवल भारतीय नागरिकों तक ही सीमित हैं और कुछ मौलिक अधिकारों के विपरीत विदेशियों तक नहीं हैं।

All India Test Series

Suggest Corrections
thumbs-up
 
0


similar_icon
Similar questions
View More



footer-image