CameraIcon
CameraIcon
SearchIcon
MyQuestionIcon


Question

Q. With reference to the Sudden Stratospheric warming, consider the following statements:

1. This was observed for the first time over the Antarctic region. 
2. The event triggered hot dry winds across countries near the southern oceans.
3. The event of stratospheric warming is a rarity in the Northern hemisphere. 

Which of the above given statements is/are incorrect? 

Q. सडेन स्ट्रैटोस्फेरिक वार्मिंग के संदर्भ में, निम्नलिखित कथनों पर विचार करें:

1. अंटार्कटिक क्षेत्र में पहली बार इसका अनुभव किया गया था।
2. यह घटना दक्षिणी महासागर के आसपास के देशों में गर्म शुष्क हवाओं को प्रेरित करती है।
3. स्ट्रैटोस्फेरिक वार्मिंग की घटना उत्तरी गोलार्ध में दुर्लभ है।

ऊपर दिए गए कथनों में कौन सा/से गलत है/हैं?

  1. 1 and 3 only 
    केवल 1 और 3

  2. 2 and 3 only 
    केवल 2 और 3 

  3. 3 only 
    केवल 3

  4. 1, 2 and 3 only
    केवल 1, 2 और 3 


Solution

The correct option is A
1 and 3 only 
केवल 1 और 3
Statement 1 is incorrect: Sudden stratospheric warming is common and occurs every second year on an average in the Northern hemisphere which is associated with cold weather. However it is a rarity in the southern hemisphere. Hence, this was not the first time that the phenomenon was witnessed over Antarctica.

Statement 2 is correct: The sudden warming of the stratosphere over Antarctica has raised temperatures in the South Pole by more than 40 degree celsius and triggered hot dry winds across Australia and neighbouring countries for a few months. It also impacted rainfall and worsened droughts in the continent.

Statement 3 is incorrect: Sudden stratospheric warming is common in the Northern hemisphere. One reason for major stratospheric warmings to occur in the Northern hemisphere is because of dominance of land over the ocean which creates more temperature difference. Since the southern hemisphere is mostly occupied by ocean there is no temperature difference that is why sudden stratospheric warming happens rarely in the southern hemisphere. 

कथन 1 गलत है: सडेन स्ट्रैटोस्फेरिक वार्मिंग की घटना आम है और उत्तरी गोलार्ध में औसतन हर दूसरे वर्ष होती है और ठंड के मौसम से जुडी  है।हालाँकि यह दक्षिणी गोलार्ध में दुर्लभ है।अतः यह पहली बार नहीं था कि अंटार्कटिका पर इस घटना का  अनुभव किया गया।

कथन 2 सही है: अंटार्कटिका पर समताप मंडल के अचानक गर्म होने से दक्षिण ध्रुव में 40 डिग्री सेल्सियस से अधिक तापमान बढ़ जाता है और कुछ महीनों के लिए ऑस्ट्रेलिया और पड़ोसी देशों में गर्म शुष्क हवाएँ चलती हैं। यह महाद्वीप में वर्षा को भी प्रभावित करती हैं और सूखे की समस्या को और विकराल बनाती हैं।

कथन 3 गलत है: उत्तरी गोलार्ध में सडेन स्ट्रैटोस्फेरिक वार्मिंग की घटना आम है।उत्तरी गोलार्ध में होने वाले स्ट्रैटोस्फेरिक वार्मिंग का एक कारण महासागर की तुलना में भूमि का अधिक हिस्सा होना है जो अधिक तापमान अंतर पैदा करता है।चूँकि दक्षिणी गोलार्ध में ज्यादातर महासागर हैं इसलिए तापमान में कोई अंतर नहीं होता है। अतः दक्षिणी गोलार्ध में सडेन स्ट्रैटोस्फेरिक वार्मिंग की घटना दुर्लभ है।

flag
 Suggest corrections
thumbs-up
 
0 Upvotes


Similar questions
QuestionImage
All India Test Series
Q3.
Q. With reference to a Judge of the High Court in India, consider the following statements:Which of the above given statements are correct?

Q. भारत में उच्च न्यायालय के न्यायाधीश के संदर्भ में, निम्नलिखित कथनों पर विचार करें:
  1. सर्वोच्च न्यायालय के विपरीत, किसी प्रतिष्ठित न्यायविद को उच्च न्यायालय के न्यायाधीश के रूप में नियुक्त नहीं किया जा सकता है।
  2. न्यायिक स्वतंत्रता को बनाए रखने के लिए, संविधान ने उच्च न्यायालय के न्यायाधीशों का कार्यकाल तय किया है।
  3. एक न्यायाधीश राज्य के राज्यपाल के समक्ष शपथ लेता है।
  4. राष्ट्रपति के आदेश से ही किसी उच्च न्यायालय के न्यायाधीश को उसके पद से हटाया जा सकता है।
ऊपर दिए गए कथनों में से कौन  से सही  हैं?

  1. 1 and 2 only
    केवल 1 और 2

  2. 1, 3 and 4 only
    केवल 1, 3 और 4

  3. 3 and 4 only
    केवल 3 और 4

  4. 1, 2 and 3 only
    केवल 1, 2 और 3
QuestionImage
View More...



footer-image