CameraIcon
CameraIcon
SearchIcon
MyQuestionIcon
MyQuestionIcon
Question

Q3. With reference to Dam Rehabilitation Improvement Project (DRIP), which of the following statement(s) is/are correct?

1. The project aims to improve safety and operational performance of the Dams

2. The funds for the project will be shared by New Development Bank.

Select the correct code:

बांध पुनर्वास सुधार परियोजना (डीआरआईपी) के संदर्भ में, इनमें से कौन सा/से कथन सत्य है/हैं?

1. परियोजना का उद्देश्य बांधो की सुरक्षा और परिचालन प्रदर्शन में सुधार करना है

2. परियोजना के लिए धन का व्यय न्यू विकास बैंक द्वारा साझा किया जाएगा।

सही कूट का चयन करें:


A

Only 1

केवल 1

Right on! Give the BNAT exam to get a 100% scholarship for BYJUS courses
B

Only 2

केवल 2

No worries! We‘ve got your back. Try BYJU‘S free classes today!
C

Both 1 and 2

1 और 2 दोनों

No worries! We‘ve got your back. Try BYJU‘S free classes today!
D

None of the above

इनमें से कोई नहीं

No worries! We‘ve got your back. Try BYJU‘S free classes today!
Open in App
Solution

The correct option is A

Only 1

केवल 1


  • It’s a state sector scheme with central component.
  • Cabinet Committee on Economic Affairs has recently approved the revised cost estimate of DRIP.
  • Dam Rehabilitation Improvement Project (DRIP) was commenced in the year 2012 as a 6-year project.
  • Later, Union Ministry of Water Resources, River Development and Ganga Rejuvenation extended the project period with a revised closure date by June, 2020.
  • The project aims to improve safety and operational performance of 198 Dams, along with strengthening of institutions.
  • The funds for this project will be shared by World Bank, State Implementing agencies and Central Water Commission.
  • यह केंद्रीय घटक के साथ एक राज्य क्षेत्र की योजना है।
  • आर्थिक मामलों पर कैबिनेट कमेटी ने हाल ही में टपक (ड्रिप) परियोजना के लिए संशोधित लागत अनुमान को मंजूरी दी है।
  • बांध पुनर्वास सुधार परियोजना (डीआरआईपी) वर्ष 2012 में 6 वर्षीय परियोजना के रूप में शुरू की गई थी।
  • बाद में, केंद्रीय जल संसाधन, नदी विकास और गंगा संरक्षण मंत्रालय ने परियोजना समाप्त होने की तारीख को संशोधित कर इसकी अवधि जून 2020 तक बढ़ा दी है।
  • परियोजना का लक्ष्य 198 बाँधो की सुरक्षा और परिचालन प्रदर्शन में सुधार करने के साथ ही संस्थानों को सुदृढ़ करना भी है।
  • इस परियोजना के लिए निधि विश्व बैंक, राज्य कार्यान्वयन एजेंसियों और केंद्रीय जल आयोग द्वारा साझा की जाएगी।

flag
Suggest Corrections
thumbs-up
0
BNAT
mid-banner-image