यूपीएससी परीक्षा की तैयारी के लिए  हिन्दी भाषा में सर्वश्रेष्ठ समाचार पत्र

इसे प्रकाशित करने का उद्देश्य उन आईएएस उम्मीदवारों की सहायता करना है जो हिंदी माध्यम से  सिविल सेवा परीक्षा में प्रतिभाग कर रहें हैं। इस विज्ञापन में, हम आपको IAS / IPS / IRS / IFS – UPSC सिविल सेवा परीक्षा के लिए सर्वश्रेष्ठ हिंदी समाचार पत्रों की सूची बताएंगे जो हिन्दी भाषा के समाचार पत्र IAS परीक्षा की तैयारी में आपकी सहायता करेंगे। यह लेख आपको यह तय करने में मदद करेगा कि हिंदी भाषा में आईएएस की तैयारी करने के लिए सबसे अच्छा समाचार पत्र कौन सा है। आपकी सुविधा के लिए यहाँ आईएएस परीक्षा की तैयारी हेतु श्रेष्ठ हिंदी समाचार पत्रों की सूची दी गई है।

क्या ‘द हिंदू’ अखबार के समान कोई हिंदी अखबार है?

वास्तव में हिंदी माध्यम के उम्मीदवारों के लिए आपको शायद ही कोई हिंदी अखबार मिलेगा जो द हिंदू के मानक और गुणवत्ता के अनुरूप हो। हालांकि, इसका तात्पर्य यह कदापि नहीं है कि आप आईएएस परीक्षा में अंग्रेजी माध्यम के उम्मीदवारों से कहीं पीछे हैं । ऐसा कहने से हमारा तात्पर्य यह है कि बाजार में ऐसा कोई भी अखबार नहीं है जो आपको द हिंदू जैसे सभी महत्वपूर्ण खबरें एक ही पेपर समेकित करता हो। इसलिए आपको आईएएस परीक्षा की तैयारी के लिए दो से अधिक हिंदी समाचार पत्र पढ़ने की आवश्यकता है। अत: जब दैनिक करेंट अफेयर्स की बात आती है तो यह हिंदी माध्यम के छात्रों के लिए थोड़ा कठिन है।

आपको सभी हिंदी समाचार पत्रों में सबसे सनसनीखेज सुर्खियां आसानी से प्राप्त हो जाएंगी, लेकिन संघ लोक सेवा आयोग अलग है, और वह कभी भी आपसे सीधे प्रश्न नहीं पूछता है। वह आपसे कुछ भी पूछ सकता है, इसलिए आप जितना संभव हो उससे अधिक समाचार पत्र पढ़ने का जोखिम न लें क्योंकि समाचार पत्रों में समाचार छितराए हुए रहते हैं और आपके लिए सभी समाचार पत्र पढ़ना संभव नहीं है। हिंदी समाचार पत्रों का  सीमित विस्तार होता है; इसलिए, वे केवल उन समाचारों को ही प्रकाशित करते हैं जो उनके अनुरूप हैं; वे संघ लोक सेवा के अनुसार समाचार प्रकाशित नहीं करते हैं। यही कारण है कि विभिन्न स्रोतों से समाचार एकत्र करना आपका कार्य है, और हम आपको बताएंगे कि यह कैसे करना है।

नीचे कुछ अच्छे हिंदी भाषी समाचार पत्र सूचीबद्ध हैं जिन्हें आपको आईएएस परीक्षा की तैयारी के लिए पढ़ना चाहिए। ये हिंदी भाषी समाचार पत्र प्रारंभिक और मुख्य (जीएस -1, जीएस -2, जीएस -3, जीएस -4) दोनों परीक्षाओं में सामान्य अध्ययन की तैयारी में आपकी सहायता करेंगे।

आईएएस की तैयारी के लिए अनुशंसित हिंदी भाषा के समाचार पत्रों की सूची

  1. दैनिक ट्रिब्यून: यह चंडीगढ़, नई दिल्ली, जालंधर, देहरादून और बठिंडा से प्रकाशित होने वाला हिंदी भाषा का एक दैनिक समाचार पत्र है। इसकी स्थापना 1978 में द ट्रिब्यून ट्रस्ट द्वारा की गई थी, जिसने द ट्रिब्यून और द पंजाबी ट्रिब्यून का प्रकाशन किया था। यह आईएएस परीक्षा की तैयारी के लिए भारत के सर्वश्रेष्ठ हिंदी भाषा के समाचार पत्रों में से एक है।
  2. दैनिक भास्कर: यह हिंदी भाषा का एक दैनिक समाचार पत्र है जो वर्तमान में भारत का सबसे बड़ा प्रसारित दैनिक समाचार पत्र है। इसका स्वामित्व दैनिक भास्कर समूह के पास है, जो भारत की सबसे बड़ी प्रिंट मीडिया कंपनी है। इसका प्रकाशन 1958 में भोपाल से आरंभ  हुआ था, दैनिक भास्कर के इंदौर संस्करण के लॉन्च के साथ ही 1983 में इसका विस्तार हुआ । आज, यह भारत में प्रचलित 4 प्रमुख भाषाओं (हिंदी, अंग्रेजी, मराठी और गुजराती) के साथ 61 संस्करणों के साथ 14 राज्यों में मौजूद है
  3. दैनिक जागरण: यह हिंदी भाषा का एक  दैनिक समाचार पत्र है।  यह भारत में सर्वाधिक पढ़ा जाने वाला समाचार पत्र है, जिसके औसत अंक पाठक संख्या (एआईआर) 16.37 मिलियन है। वर्ल्ड एसोसिएशन ऑफ न्यूजपेपर्स (डब्ल्यूएएन) ने दैनिक जागरण को दुनिया में सबसे ज्यादा पढ़े जाने वाले अखबारों में से एक घोषित किया है। बीबीसी-रॉयटर्स द्वारा संपन्न एक सर्वेक्षण में इसे भारत में सर्वाधिक विश्वसनीय समाचार पत्र नामित किया था। अखबार का स्वामित्व जागरण प्रकाशन लिमिटेड के पास है, जो बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज और नेशनल स्टॉक एक्सचेंज ऑफ इंडिया पर सूचीबद्ध एक प्रकाशन हाउस है।
  4. नवभारत: यह भोपाल, इंदौर, जबलपुर, ग्वालियर, सतना, छिंदवाड़ा, नागपुर, मुंबई, रायपुर, बिलासपुर, पुणे, नासिक, चंद्रपुर और अमरावती से प्रकाशित होने वाला हिंदी भाषा का एक दैनिक समाचार पत्र है। हिंदी भाषा के समाचार पत्रों में सर्वाधिक पाठकों की संख्या के आधार पर  नवभारत का छठवाँ स्थान है।
  5. बिजनेस स्टैंडर्ड: बिजनेस स्टैंडर्ड एक दैनिक समाचार पत्र है जो बिजनेस स्टैंडर्ड लिमिटेड द्वारा दो भाषाओं (अंग्रेजी और हिंदी) में प्रकाशित किया जाता है। इस समाचार पत्र की स्थापना 1975 में हुई थी यह समाचार पत्र मुख्यत: भारत और अंतर्राष्ट्रीय व्यापार, वित्तीय समाचार और मुद्दों को कवर करता है।
  6. इकोनॉमिक टाइम्स: यह एक दैनिक समाचार पत्र है जिसे Bennett, Coleman & Co. Ltd. द्वारा प्रकाशित किया जाता है। इसका पहली बार प्रकाशन 1961 में किया गया था, यह वॉल स्ट्रीट जर्नल के बाद दुनिया का दूसरा सबसे व्यापक रूप से पढ़ा जाने वाला व्यावसायिक समाचार पत्र है, जिसके 800,000 से अधिक पाठक हैं। इकोनॉमिक टाइम्स 12 शहरों- मुंबई, बैंगलोर, दिल्ली, चेन्नई, कोलकाता, लखनऊ, हैदराबाद, जयपुर, अहमदाबाद, नागपुर, चंडीगढ़ और पुणे से एक साथ प्रकाशित होता है।
  7. दैनिक नवज्योति: यह राजस्थान के जयपुर, जोधपुर, अजमेर और कोटा से प्रकाशित होने वाला हिंदी भाषा का दैनिक समाचार पत्र है। इसकी शुरुआत 1936 में हुई थी।
  8. बीबीसी हिंदी
  9. साप्ताहिक / मासिक आर्थिक बुलेटिन

यह लेख यूपीएससी सिविल सेवा परीक्षा के लिए सर्वश्रेष्ठ हिंदी भाषा के समाचार पत्रों पर प्रकाश डालने और उन उम्मीदवारों की सहायता करने के लिए है जो हिंदी माध्यम में इस परीक्षा को दे रहे हैं या आगामी वर्षों में इस इस परीक्षा में प्रतिभाग लेगें। कुछ अच्छे हिंदी भाषा के समाचार पत्र हैं जो आईएएस परीक्षा की तैयारी में आपकी सहायता कर सकते हैं। हिन्दी भाषा में कई पेपरों के एक समग्र सिंहावलोकन हेतु इसे एक छत के नीचे लाने के लिए संदर्भित करने की आवश्यकता है। यह एक विदित तथ्य है कि यूपीएससी कभी भी सीधे प्रश्नों के लिए नहीं जाना जाता है। आपको समसामयिक घटनाक्रम के लिए नोट्स लिखने की आदत विकसित करने की सलाह दी जाती है और इस तरह से यह सुनिश्चित किया जा सकता है कि सभी महत्वपूर्ण जानकारी एक ही स्थान पर उपलब्ध है जो उचित समय पर और आगे के संदर्भ के लिए उपयोग की जा सकती है

हिंदी में UPSC की तैयारी हेतु सर्वश्रेष्ठ पत्रिका: योजना और कुरुक्षेत्र पत्रिकाओं के हिंदी संस्करण हैं।

Frequently Asked Questions about Primary KW

प्रश्न- आईएएस के लिए सबसे अच्छा समाचार पत्र कौन-सा है?

आम सहमति के रूप में, द हिंदू को आईएएस की तैयारी के लिए सर्वश्रेष्ठ समाचार पत्र माना जाता है। उम्मीदवार यूपीएससी परीक्षा की तैयारी के लिए द हिंदू समाचार पत्र के साथ निम्नलिखित समाचार पत्रों के विशिष्ट अंशों को भी देख सकते हैं:

  1. द न्यू इंडियन एक्सप्रेस
  2. इकनॉमिक टाइम्स

प्रश्न- कौन-सा समाचार चैनल आईएएस की तैयारी के लिए सबसे अच्छा है?

उत्तर- हालांकि आईएएस परीक्षा की तैयारी के लिए टीवी देखने की सिफारिश नहीं की जाती है, उम्मीदवार अपने ज्ञान को बढ़ाने और यूपीएससी परीक्षा के लिए समसामयिक मुद्दों पर अद्यतित रहने के लिए निम्नलिखित चैनल देख सकते हैं:

  1. लोकसभा टीवी
  2. राज्यसभा टीवी
  3. पीआईबी
  4. डीडी समाचार

प्रश्न- भारत का सबसे पुराना अंग्रेजी समाचार पत्र कौन सा है?

उत्तर- बंगाल गजट भारत का पहला अंग्रेजी अखबार था और यह 1780 से 1782 तक प्रकाशित हुआ था। यह एशिया में प्रकाशित होने वाला पहला समाचार पत्र भी था। टाइम्स ऑफ इंडिया भारत में प्रासारित होने वाला सबसे पुराना अंग्रेजी समाचार पत्र है जिसका प्रकाशन 1838 में प्रारंभ हुआ था।

प्रश्न- यूपीएससी के लिए कौन सी पत्रिका सबसे अच्छी है?

उत्तर- यूपीएससी परीक्षा के लिए सबसे अच्छी पत्रिका वह होगी जो यूपीएससी परीक्षा से संबंधित समन्वित सामसामयिक घटनाक्रम प्रकाशित करती है। इस मानदंड के अनुसार, जो पत्रिकाएं यूपीएससी परीक्षा के लिए सबसे अच्छी हैं, वे हैं:

  1. योजना
  2. कुरुक्षेत्र
  3. आर्थिक और राजनीतिक साप्ताहिक

प्रश्न- आईएएस परीक्षा के लिए समसामयिक घटनाक्रम कितने महीने का प्रासंगिक हैं?

उत्तर- आईएएस परीक्षा के लिए समसामयिक घटनाक्रम प्रीलिम्स और मेन्स के लिए थोड़ा भिन्न है क्योंकि दो चरणों के मध्य समय महत्वपूर्ण है। यूपीएससी के लिए समसामयिक घटनाक्रम के लिए निम्नलिखित महीने प्रासंगिक हैं:

  1. प्रारंभिक परीक्षा : पिछली मुख्य परीक्षा से प्रारंभ होकर प्रारंभिक परीक्षा की तारीख से एक पखवाड़े पहले तक का समसामयिक घटनाक्रम
  2. मुख्य परीक्षा : समसामयिक घटनाक्रम पिछली मुख्य परीक्षा से शुरू होकर मुख्य परीक्षा की तारीख से एक पखवाड़े पहले तक का समसामयिक घटनाक्रम

प्रश्न- भारत में स्वराज समाचार पत्र की शुरुआत किसने की थी?

उत्तर- स्वतंत्रता संग्राम के एक हिस्से के रूप में स्वराज समाचार पत्र की शुरुआत नेताजी सुभाष चंद्र बोस द्वारा 1921 में की गई थी। बाद में अखबार को बंद कर दिया गया और 1956 और 2014 में स्वराज्य पत्रिका के रूप में इसे फिर से प्रारंभ किया गया।

प्रश्न- क्या आईएएस परीक्षा की तैयारी के लिए एक साल का समय पर्याप्त है?

उत्तर- एक वर्ष का समय आईएएस परीक्षा की तैयारी के लिए पर्याप्त से अधिक है। किसी को आईएएस परीक्षा के लिए कोचिंग में शामिल होने की आवश्यकता नहीं है यदि कोई सही मार्गदर्शन और रणनीति के साथ यूपीएससी के पाठ्यक्रम को अच्छी तरह से तैयार करता है। आईएएस परीक्षा की तैयारी के लिए, उम्मीदवारों को यूपीएससी के पाठ्यक्रम को ध्यान में रखना होगा और परीक्षा पूर्व के छह: महीनों की प्रासंगिक सामग्री का अच्छी तरह से अध्ययन करना होगा, जिसके बाद उम्मीदवारों को अपनें प्रदर्शन में सुधार हेतु मॉक टेस्ट और पिछले वर्ष के प्रश्न पत्रों को हाल करनें के प्रयास पर ध्यान केंद्रित करना चाहिए।

प्रश्न- UPSC प्रारंभिक परीक्षा 2022 का आयोजन कब और कितने दिन का होता है?

उत्तर- यूपीएससी प्रारंभिक परीक्षा 2022 का आयोजन 5 जून, 2022 को किया जाएगा और इस परीक्षा की अवधि एक दिन है। इसमें 2 घंटे की अवधि के दो पेपर होतें हैं, जिनमें मध्य में 3 घंटे का अंतर होता है ।

यदि आपको यह लेख पसंद आया है और आप अधिक लेख पढ़ना चाहते हैं, तो आज ही BYJU का ऐप डाउनलोड कीजिए । आप यूपीएससी परीक्षा की तैयारी के लिए हिंदी माध्यम के उम्मीदवारों के लिए पुस्तकों की विस्तृत सूची भी देख सकते हैं।

सम्बंधित लिंक्स:

Leave a Comment

Your Mobile number and Email id will not be published. Required fields are marked *

*

*