UPSC राजनीतिक विज्ञान और अंतरराष्ट्रीय संबंध : पुस्तक सूची

‘संघ लोक सेवा आयोग’ (UPSC) द्वारा आयोजित की जाने वाली आईएएस की परीक्षा में कोई एक विषय वैकल्पिक विषय के रूप में प्रत्येक अभ्यर्थी को चुनना होता है। वैकल्पिक विषय आईएएस परीक्षा प्रणाली की मुख्य परीक्षा का हिस्सा होता है। अभ्यर्थी द्वारा चुने गए वैकल्पिक विषय के दो प्रश्न पत्र मुख्य परीक्षा में शामिल होते हैं। 

लिंक किए गए लेख में यूपीएससी वैकल्पिक विषय सूची प्राप्त करें।

यूपीएससी वैकल्पिक विषय – अवलोकन

मुख्य परीक्षा के समस्त प्रश्न पत्र अपनी प्रकृति में वर्णनात्मक (Descriptive) होते हैं। इस परीक्षा में भाग लेने वाले प्रत्येक अभ्यर्थी को यूपीएससी द्वारा निर्धारित किए गए विषयों में से किसी एक विषय को वैकल्पिक विषय के रूप में चुनना होता है। 

यूपीएससी द्वारा निर्धारित इन विषयों की सूची में एक विषय ‘राजनीतिक विज्ञान और अंतरराष्ट्रीय संबंध’ (PSIR) भी है। प्रत्येक अन्य वैकल्पिक विषय की भाँति ही यूपीएससी ने इस विषय के पाठ्यक्रम को भी दो प्रश्न पत्रों के रूप में विभाजित किया है। इस वैकल्पिक विषय की मुख्य विशेषता यह है कि इसके पाठ्यक्रम का अधिकांश हिस्सा सामान्य अध्ययन के पाठ्यक्रम से भी मेल खाता है, इसीलिए ‘राजनीतिक विज्ञान और अंतरराष्ट्रीय संबंध’ को वैकल्पिक विषय के रूप में चुनने वाले अभ्यर्थियों को सामान्य अध्ययन के पाठ्यक्रम में भी अत्यंत लाभ मिलता है। 

वास्तव में, यह वैकल्पिक विषय चुनने वाले आईएएस के अभ्यर्थियों को भारतीय राजव्यवस्था, अंतरराष्ट्रीय संबंध, विश्व इतिहास जैसे सामान्य अध्ययन के विषयों में अत्यधिक सहायता मिलती है। यही कारण है कि यह वैकल्पिक विषय आईएएस परीक्षा की तैयारी कर रहे कई अभ्यर्थियों की पसंद होता है। 

UPSC राजनीतिक विज्ञान और अंतरराष्ट्रीय संबंध के लिए पुस्तकों की आवश्यकता

गौरतलब है आईएएस परीक्षा की जटिल और लंबी प्रणाली के मद्देनज़र प्रत्येक विषय को एक बेहतर किताब के माध्यम से तैयार करना अत्यंत महत्त्वपूर्ण होता है। फिर जब बात वैकल्पिक विषय की हो, तो अच्छी किताबों की उपयोगिता और बढ़ जाती है। इसीलिए इस लेख के माध्यम से हम आपके साथ ‘राजनीतिक विज्ञान और अंतरराष्ट्रीय संबंध’ वैकल्पिक विषय के लिए हिंदी माध्यम में मौजूद सबसे शानदार पुस्तकों की सूची की चर्चा करेंगे। तो आइए अब सिलसिलेवार तरीके से इस वैकल्पिक विषय के लिए हिंदी माध्यम में उपलब्ध पुस्तकों के बारे में जानते हैं।

UPSC राजनीतिक विज्ञान और अंतरराष्ट्रीय संबंध के लिए एनसीईआरटी पुस्तकें

इस वैकल्पिक विषय से संबंधित मानक पुस्तकों की चर्चा करने से पहले हमें यह समझ लेना चाहिए कि कौन-कौन सी एनसीईआरटी की पुस्तकें इस वैकल्पिक विषय को तैयार करने में सहायक हो सकती हैं। यूँ तो कक्षा 6 से लेकर कक्षा 12 तक की राजनीतिक विज्ञान से संबंधित सभी एनसीईआरटी की पुस्तकें इस वैकल्पिक विषय के लिए अत्यंत महत्त्वपूर्ण हैं और इस विषय को वैकल्पिक विषय के रूप में रखने वाले प्रत्येक विद्यार्थी को ये समस्त पुस्तकें पढ़नी चाहिएँ, लेकिन यहाँ हम राजनीतिक विज्ञान से संबंधित एनसीईआरटी की उन पुस्तकों का विशेष रूप से उल्लेख करेंगे, जो ‘राजनीतिक विज्ञान और अंतरराष्ट्रीय संबंध’ वैकल्पिक विषय की तैयारी के लिए सबसे ज्यादा उपयोगी हैं। इस वैकल्पिक विषय से संबंधित एनसीईआरटी की सबसे उपयोगी पुस्तकें निम्नलिखित हैं-

  • कक्षा-09 : भारत और समकालीन विश्व – I
  • कक्षा-10 : भारत और समकालीन विश्व – II
  • कक्षा-11 : राजनीतिक सिद्धांत
  • कक्षा-12 : स्वतंत्र भारत में राजनीति

UPSC राजनीतिक विज्ञान और अंतरराष्ट्रीय संबंध के लिए मानक पुस्तकें 

‘राजनीतिक विज्ञान और अंतरराष्ट्रीय संबंध’ वैकल्पिक विषय से संबंधित एनसीईआरटी की मूलभूत पुस्तकों के बारे में जानकारी लेने के पश्चात् अब हम आगे इस विषय की मानक पुस्तकों की चर्चा करेंगे। हमने इन मानक पुस्तकों की सूची काफी शोध के पश्चात् तैयार की है। इस विषय के आईएएस के पिछले वर्षों के प्रश्न पत्रों के विश्लेषण करने, इस विषय से आईएएस परीक्षा उत्तीर्ण करने वाले टॉपर से विचार-विमर्श करने तथा इस विषय के विशेषज्ञ अध्यापकों से चर्चा करने के पश्चात इस निष्कर्ष पर पहुँचे हैं कि नीचे दी गई पुस्तक सूची आपको हिंदी माध्यम के विद्यार्थियों को इस विषय में सफलता दिला सकती है। पाठ्यक्रम से संबंधित मानक पुस्तकें और उनके लेखकों के नाम निम्नलिखित हैं:

क्रम सं.

पुस्तक का नाम

लेखक का नाम

1. पाश्चात्य राजनीतिक विचारक या पाश्चात्य राजनीतिक चिंतन प्रभु दत्त शर्मा, ओम प्रकाश गाबा, बी एल फाड़िया
2. भारतीय राजनीतिक विचारक या भारतीय राजनीतिक चिंतन अजय कुमार व इस्लाम अली, ओम प्रकाश गाबा बी एल फाड़िया
3. तुलनात्मक राजनीति या तुलनात्मक शासन एवं राजनीति या तुलनात्मक राजनीति की रूपरेखा सी बी गेना, तपन बिस्वाल, ओम प्रकाश गाबा, जे सी जौहरी
4. राजनीतिक सिद्धांत या राजनीतिक सिद्धांत की रूपरेखा बी एल फाड़िया, ओम प्रकाश गाबा, पुखराज जैन
5. समकालीन राजनीतिक सिद्धांत बी एल फाड़िया

कुलदीप फाड़िया

6. अंतरराष्ट्रीय राजनीति और संबंध या अंतरराष्ट्रीय संबंध बी एल फाड़िया, जे एन दीक्षित, पुष्पेश पंत, राजेश मिश्रा
7. भारतीय संविधान या भारतीय राजव्यवस्था एम लक्ष्मीकांत
8. भारतीय शासन एम लक्ष्मीकांत
9. हमारी संसद सुभाष कश्यप

निष्कर्ष

विदित है कि इस वैकल्पिक विषय को समसामयिक घटनाक्रम से अद्यतन रखा जाना भी अनिवार्य है, अन्यथा इस विषय में बेहतर अंक प्राप्त नहीं किए जा सकते हैं। इसलिए उपरोक्त चर्चित एनसीईआरटी पुस्तकों तथा मानक पुस्तकों के अतिरिक्त एक ‘वर्ल्ड फोकस’ नामक समसामयिक पत्रिका का भी नियमित अध्ययन किया जाना इस विषय की तैयारी में लाभदायक सिद्ध हो सकता है। इसके अलावा, हिंदी माध्यम के किसी एक मानक अखबार जैसे दैनिक जागरण अथवा जनसत्ता का नियमित अध्ययन भी उपयोगी हो सकता है।

हमें उम्मीद है कि ‘राजनीतिक विज्ञान और अंतरराष्ट्रीय संबंध’ वैकल्पिक विषय के संबंध में सुझाव गई उपरोक्त पुस्तकों के माध्यम से आप अपनी तैयारी को बेहतर पड़ाव पर पहुँचा सकते हैं तथा इस जटिल परीक्षा प्रणाली में बड़ी आसानी से अपने वैकल्पिक विषय को तैयार कर अपनी सफलता सुनिश्चित कर सकते हैं।

सम्बंधित लिंक्स:

Leave a Comment

Your Mobile number and Email id will not be published. Required fields are marked *

*

*