यूपीएससी करेंट अफेयर्स हिंदी में

प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी के लिये समसामयिक घटनाक्रम, सामान्य जागरूकता का अभिन्न अंग रहा है। किसी भी प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी के लिये सामान्य जागरूकता का ज्ञान आवश्यक होता है। UPSC, BANK, SSC, RRB जैसी प्रतियोगी परीक्षाओं में प्रतियोगियों से भारत और विश्व की समसामयिक घटनाक्रम के परिप्रेक्ष्य में अद्यतन रहने की अपेक्षा की जाती है।

UPSC और उपर्युक्त अन्य प्रकार की प्रतियोगी परीक्षाओं जिसके लिये आप तैयारी कर रहे है, के क्रम में आने वाली चुनौतियों के समाधान हेतु हम आवधिक और श्रेणी-वार वार्षिक समसामयिक घटनाक्रम को कवर करते हैं।

समसामयिक घटनाक्रम पढ़ना क्यों जरूरी है?

समसामयिक घटनाक्रम राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय महत्व की घटनाओं को संदर्भित करता है जो  CSE, BANK आदि जैसी प्रतियोगी परीक्षाओं के दृष्टिकोण से प्रासंगिक होता हैं । परीक्षा प्रारूप में बदलाव के साथ, समसामयिक घटनाक्रम से संबंधित प्रश्नों ने प्रतियोगियों के चयन में प्रमुख भूमिका निभाई है।

मोटे तौर पर, सामान्य जागरूकता से पूछे जाने वाले प्रश्नों को दो भागों में विभाजित किया जा सकता है,

  • स्थैतिक (Static)  
  • गत्यात्मक (Dynamic) 

स्थैतिक (Static) भाग UPSC पाठ्यक्रम या अन्य परीक्षाओं के पाठ्यक्रम के उस खंड से संबंधित है जिसमें कोई बदलाव नहीं होता है। उदाहरण के लिये -1857 का विद्रोह, भारत की भौतिक विशेषताएं आदि।

गत्यात्मक (Dynamic) भाग समसामयिक घटनाक्रम से संबंधित है। समसामयिक घटनाक्रम की तैयारी करने के लिये सबसे अच्छा तरीका, दैनिक समाचार पत्र, प्रेस सूचना ब्यूरो (Press Information Bureau-PIB) और योजना पत्रिका जैसे विश्वसनीय स्रोतों का अनुसरण करना है।

 IAS परीक्षा, सरकारी परीक्षा या किसी अन्य प्रतियोगी परीक्षा में सफलता के लिये समसामयिक घटनाक्रम की अच्छी समझ आवश्यक है। समसामयिक घटनाक्रम  इतिहास, भूगोल, अर्थव्यवस्था, पर्यावरण और पारिस्थितिकी, राजनीति, विज्ञान और प्रौद्योगिकी आदि जैसे विषयों का विस्तार (span) करता हैं।

प्रतियोगियों को राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय स्तर पर सुर्खियों में रहने वाले समसामयिक घटनाक्रम  से अद्यतन रहना चाहिए।

वास्तव में, हाल के रुझानों से पता चला है, कि समसामयिक घटनाक्रम के मामलों में पाठ्यक्रम के स्थैतिक (Static) और गत्यात्मक (Dynamic) भागों में महत्वपूर्ण अतिव्यापन (ओवरलैप) है। पाठ्यक्रम के पारंपरिक रूप से स्थैतिक (Static) भागों में समसामयिक घटनाक्रम से अप्रत्याशित प्रश्नों के बनने की संभावना काफी अधिक है।

BYJU’S प्रतियोगी परीक्षा समसामयिक घटनाक्रम का कवरेज

BYJU’S द्वारा समसामयिक घटनाक्रम कवरेज में सम्मिलित हैं:

समसामयिक घटनाक्रम 2022

प्रकाशन की आवृत्ति

विवरण

व्यापक समाचार विश्लेषण (CNA) दैनिक UPSC और अन्य प्रतियोगी परीक्षा पाठ्यक्रम के अनुसार दैनिक समाचारों का विश्लेषण और वर्गीकरण किया जाता है। प्रतियोगी ‘द हिंदू’ समाचार पत्र की  दैनिक समसामयिक घटनाक्रम से अद्यतन रहें। प्रतियोगी BYJU’S द्वारा दैनिक व्यापक समाचार विश्लेषण (CNA) के साथ अपने समाचार पत्र को पढ़ना आसान बनाएं। 
PIB दैनिक प्रेस सूचना ब्यूरो (PIB) लेख UPSC के लिये चयनित लेख हैं। प्रतियोगी सभी सरकारी योजनाओं पर PIB सारांश के साथ नवीनतम सरकारी नीतियों, योजनाओं, कार्यान्वयन और उपलब्धियों से अद्यतन रहें।
द हिंदू वीडियो विश्लेषण दैनिक ‘द हिंदू’ से दैनिक समाचारों का मुफ्त YouTube वीडियो व्याख्यान उपलब्ध हैं। अधिक जानकारी के लिये  प्रतियोगी ‘BYJU’S IAS‘ चैनल को सब्सक्राइब करें। 
स्थैतिक सामान्य अध्ययन  प्रतियोगी विभिन्न स्थैतिक सामान्य अध्ययन विषयों जैसे भारत में अंतरिक्ष अनुसंधान केंद्रों और इकाइयों की सूची, कैबिनेट मंत्रियों की सूची, RBI के गवर्नरों की सूची आदि पर महत्वपूर्ण लेखों के PDF को देखें और डाउनलोड करें।
UPSC मासिक पत्रिका मासिक PDF प्रारूप में डाउनलोड करने योग्य मासिक पत्रिका में IAS की तैयारी हेतु संकलित और वर्गीकृत दैनिक समाचार। प्रतियोगी BYJU’S UPSC मासिक पत्रिका डाउनलोड करें। 
जिस्ट ऑफ योजना मासिक UPSC की तैयारी के लिये योजना पत्रिका में महत्वपूर्ण लेखों का सार।
जिस्ट ऑफ कुरुक्षेत्र मासिक UPSC की तैयारी के लिये कुरुक्षेत्र पत्रिका में महत्वपूर्ण लेखों का सार।
इतिहास में यह दिन दैनिक  प्रतियोगी आज के दिन, इतिहास में घटित होने वाली खबरों और घटनाओं के बारे में पढ़ें; प्रतियोगी आज का ‘इतिहास में यह दिन‘ प्राप्त करें। 
करेंट अफेयर्स क्विज़ साप्ताहिक  प्रतियोगी समसामयिक घटनाक्रम और सामान्य ज्ञान पर एक प्रश्नोत्तरी (क्विज़) का अभ्यास करें और अपना मूल्यांकन करें। प्रतियोगी साप्ताहिक समसामयिक घटनाक्रम प्रश्नोत्तरी के साथ अपने ज्ञान का परीक्षण करें।
द हिंदू वीडियो एनालिसिस दैनिक  प्रतियोगी विश्व की ताजा महत्वपूर्ण खबरों की बेहतर समीक्षा के लिये प्रतियोगी दैनिक वीडियो एनालिसिस: द हिंदू प्रश्न पत्र देख सकते हैं।
संसद टीवी परिप्रेक्ष्य दैनिक  संसद टीवी कार्यक्रम का सार जिसमें UPSC के लिये  प्रासंगिक विषयों का विश्लेषण किया जाता है, प्रतियोगी  लिंक देखें। 
आकाशवाणी स्पॉटलाइट दैनिक  AIR स्पॉटलाइट पर प्रदर्शित चर्चा का सारांश – एक कार्यक्रम जहां समसामयिक घटनाक्रम के मुद्दों पर विचार-विमर्श किया जाता है। 

उपर्युक्त पहल बड़े पैमाने पर अंग्रेजी में हैं। जल्द ही, उन्हें हिंदी भाषा में उपलब्ध कराया जाएगा।

समसामयिकी के नोट्स कैसे बनाएं?

प्रतियोगी हाल ही में चर्चा में रहे समसामयिकी के निम्नलिखित तीन उदाहरणों का अनुसरण करके नोट्स बनाना सीख सकते है:

  1.   हाल ही में चर्चा में रही वेतन विधेयक संहिता प्रतियोगी परीक्षाओं के दृष्टिकोण से महत्वपूर्ण है।

इस मुद्दे पर बेहतर नोट्स बनाने के लिये, इसके बारे में जानें:

  • बिल की उत्पत्ति
  • बिल का उद्देश्य
  • भारत पर विधेयक का प्रभाव
  • बिल के पक्ष और विपक्ष का अध्ययन किया जाना चाहिये क्योंकि इससे UPSC की मुख्य परीक्षा के दौरान प्रतियोगियों को उत्तर लिखने में मदद मिल सकती है।
  1.   हाल ही में G7 देशों का 47वां शिखर सम्मेलन आयोजित किया गया था। आपको इस विषय में जानकारी होनी चाहिये:
  • प्रसंग – जून 2021 में, G7 देशों के समूह ने 47वें शिखर सम्मेलन में भाग लिया।
  • प्रकृति – यह दो वर्षों में आयोजित होने वाला पहला भौतिक शिखर सम्मेलन है
  • संबंधित – कार्बिस बे डिक्लेरेशन(Carbis Bay Declaration)
  • UPSC मुख्य परीक्षा हेतु, इसे सामान्य अध्ययन प्रश्नपत्र -II  के पाठ्यक्रम के साथ संयोजित करें।
  1. वैश्विक न्यूनतम कॉरपोरेट कर दर  (Global Minimum Corporate Tax Rate:- GMCTR) से जुड़ी एक और अन्य खबर समाचारों में छाई रही, जिसे आपको नोट्स में शामिल करने की आवश्यकता है।
  • प्रसंग – 47वें G7 शिखर सम्मेलन के दौरान G7 देशों के वित्त मंत्री वैश्विक न्यूनतम कॉर्पोरेट कर दर (GMCTR) स्थापित करने के ऐतिहासिक समझौते पर पहुँचे, जो कुछ बहुराष्ट्रीय कंपनियों द्वारा सीमा पार उपयोग की जाने वाली कर खामियों को बंद कर देगा। 
  • इसे UPSC की प्रारंभिक परीक्षा के पाठ्यक्रम के साथ संयोजित करें।
  1. UPSC,  BANK, SSC और अन्य सरकारी परीक्षाओं के लिये भारतीय अर्थव्यवस्था एक महत्वपूर्ण विषय है। UPSC के संदर्भ में अर्थव्यवस्था से जुड़ी समसामयिक घटनाक्रम की प्रासंगिकता IAS की प्रारम्भिक और मुख्य दोनों परीक्षाओं के लिये है। केंद्रीय बजट 2021-22 हाल ही में चर्चा में रहा है।

महत्वपूर्ण समसामयिक घटनाक्रम के वीडियो प्राप्त करने के लिये हमारे BYJU’S IAS Youtube  चैनल से जुडें

इसके अतिरिक्त, 30 मई के हमारे वीडियो विश्लेषण की जांच करें जिसमें ‘द हिंदू’ से लिये निम्नलिखित  समसामयिक घटनाक्रम के मामले सम्मिलित हैं:

  • सीरोसर्वे लर्निंग
  • सार्स-सीओवी-2 (SARS-CoV-2) वायरस की उत्पत्ति की जांच
  • पश्चिमी हिमालय में घटती वन पक्षी प्रजातियां 
  • जहाज में आग लगने के बाद श्रीलंका को समुद्री आपदा का सामना करना पड़ा
  • पग-आसा द्वीप

साथ ही, UPSC की  तैयारी की रणनीतियों, कठिन अवधारणाओं पर आधारित वीडियो और IAS टॉपर्स के वीडियो प्राप्त करें।

UPSC प्रारम्भिक और मुख्य परीक्षा के लिये मासिक समसामयिक घटनाक्रम

समसामयिक घटनाक्रम और सामान्य जागरूकता प्रारंभिक और मुख्य परीक्षा के सर्वाधिक अंकदायी भाग हो सकते हैं।  UPSC के प्रतियोगी आसानी से ऑनलाइन पोर्टल पर नवीनतम समसामयिक घटनाक्रम  की PDF प्राप्त कर सकते हैं।  लेकिन सबसे अच्छा और सबसे अनुशंसित तरीका दैनिक आधार पर लगन से अखबार पढ़ना है। 

UPSC प्रारंभिक परीक्षा सामान्य अध्ययन प्रश्नपत्र -I  से पिछले आठ वर्षों में, प्रत्येक विषय से प्रश्नों की संख्या का विश्लेषण यहां दिया गया है:

जैसा कि उपर्युक्त तालिका से स्पष्ट है, कि समसामयिक घटनाक्रम UPSC, IAS परीक्षा का प्रमुख हिस्सा रहा है। यहाँ तक कि जब इनकी संख्या कम होती है तब भी अन्य विषयों से पूछे जाने वाले प्रश्न IAS समसामयिक घटनाक्रम से जोड़ कर पूछे जाते है।

UPSC परीक्षा की तैयारी करते समय प्रतियोगियों को यह तय करने में कठिनाई होती है कि कौन सी खबरें पढ़नी चाहिये और किन से बचना चाहिये । यहीं पर विशेषज्ञों का मार्गदर्शन काम आता है। प्रतिदिन, देश और दुनिया में घटित होने वाली घटनाओं की एक पूरी श्रृंखला होती है। अब, इस शोर-शराबे के बीच आप IAS परीक्षा के लिये प्रासंगिक समसामयिक घटनाक्रम का चयन कैसे करते हैं? यह तय करने में बहुत समय बिताने के बजाय, कि कौन से समसामयिक घटनाक्रम का अध्ययन करें और फिर उन पर नोट्स बनाएं, यदि आप दैनिक समाचार विश्लेषण प्राप्त कर सकते हैं और विशेष रूप से IAS परीक्षा के लिये उन्हें विश्लेषित कर सकते हैं तो  BYJU’S UPSC समसामयिक घटनाक्रम की पेशकश बिल्कुल यही है। 

UPSC और आगामी सरकारी परीक्षाओं के लिये समसामयिक घटनाक्रम से अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न।

समसामयिक घटनाक्रम के लिये  सबसे अच्छा स्रोत कौन सा है?

नवीनतम समसामयिक घटनाक्रम को कवर करने के लिये दैनिक समाचार पत्र सबसे अच्छा स्रोत है। अंग्रेजी, हिंदी या किसी अन्य भाषा में समसामयिक घटनाक्रम का दैनिक आधार पर निरंतरता से पालन किया जाना चाहिये। समाचार पत्र पढ़ने के बाद,  प्रतियोगियों को किसी एक ऑनलाइन संसाधन का उपयोग करके अंतराल को भरना चाहिए। इस तरह, वे सभी नवीन समसामयिक घटनाक्रम को कवर कर सकते हैं।

क्या 2021 की समसामयिक घटनाक्रम UPSC परीक्षा 2022 में उपयोगी हैं?

जी हां, 2022 की परीक्षाओं के लिये 2021 के समसामयिक घटनाक्रम का अत्यधिक महत्व है क्योंकि आमतौर पर राज्य और संघ लोक सेवा आयोग पिछले एक साल की समसामयिक घटनाक्रम पर आधारित प्रश्न तैयार करते हैं। इसलिए, UPSC 2022 के लिये,  मई 2021 से आगे का  समसामयिक घटनाक्रम उपयोगी हैं।

UPSC के लिये  दैनिक समसामयिक घटनाक्रम का PDF ऑनलाइन कैसे डाउनलोड करें?

प्रतियोगी BYJU’S के समसामयिक घटनाक्रम के पेज पर जा सकते हैं और नियमित आधार पर नवीनतम और अद्यतन समसामयिक घटनाक्रम प्राप्त कर सकते हैं। ये नोट्स विशेषज्ञों द्वारा तैयार किये गए हैं और UPSC की तैयारी में एक वरदान के रूप में कार्य कर सकते हैं।

UPSC परीक्षा में समसामयिक घटनाक्रम के प्रश्नों का प्रतिशत कितना है?

नवीनतम समसामयिक घटनाक्रम के आधार पर पूछे जाने वाले प्रश्नों की कोई निश्चित संख्या नहीं है। प्रश्नों का भारांक पिछले कुछ वर्षों में अलग-अलग रहा है।

सम्बंधित लिंक्स:

Leave a Comment

Your Mobile number and Email id will not be published.

*

*