CameraIcon
CameraIcon
SearchIcon
MyQuestionIcon
MyQuestionIcon
Question

Q. Which of the following statements regarding tea and coffee plantations in India are correct?

Select the correct answer using the codes given below:

Q. भारत में चाय और कॉफी बागानों के संबंध में निम्नलिखित कथनों में से कौन से कथन सही हैं? निम्नलिखित कूट का उपयोग कर सही उत्तर चुनिए:

A

2 and 3 only
केवल 2 और 3
No worries! We‘ve got your back. Try BYJU‘S free classes today!
B

1, 3 and 4 only
केवल 1, 3 और 4
No worries! We‘ve got your back. Try BYJU‘S free classes today!
C

1 and 4 only
केवल 1 और 4
No worries! We‘ve got your back. Try BYJU‘S free classes today!
D

1, 2, and 3 only
केवल 1, 2, और 3
Right on! Give the BNAT exam to get a 100% scholarship for BYJUS courses
Open in App
Solution

The correct option is D
1, 2, and 3 only
केवल 1, 2, और 3
Explanation:

Statement 1 is correct: Commercial plantations of both tea and coffee were introduced in India by the British
. In India, commercial plantations started after 1820 in the southern part with British enterprise and investment. (Note: Coffee was first introduced in India by Baba Budan, but commercial plantations came up during the British era).

Statement 2 is correct: Both tea and coffee grow on well-drained loamy soil.

Statement 3 is correct: Both of them are plantation crops and require cheap labour.

Statement 4 is incorrect: In many states the geographical distribution of tea and coffee is the same. Generally it is believed that coffee is grown only in states of Karnataka and Kerala. But, coffee cultivation in the North Eastern Region started in Cachar District of Assam in 1953. Commercial cultivation of coffee began in Garo Hills (Meghalaya) to wean away the local community from Jhum cultivation.
Perspective:

Context:
Cropping pattern in different parts of the country is a core topic in Indian geography.

The question checks the ability of the student to compare the various characteristics of crops. The tip Cross link different subjects can be applied here.

Statement 1 is saying that commercial plantations of both were introduced by the British in India. Let’s apply the historical perspective here. The British used India as a hub of raw materials for their factories. They mainly cultivated them for export to London as the Mediterranean climate does not provide suitable conditions for the crop, unlike the tropical climate of India. So, statement 1 is correct and option (a) can be eliminated.

Now, the correctness of statement 4 needs to be checked since it seems to be an extreme statement because of ‘not’. The basic knowledge of agriculture tells that coffee and tea both are grown in almost similar conditions. We know that Northeastern states have tea plantations so it is highly unlikely that coffee plantations would be completely absent in the region. Thus, eliminating statement 4 from the options we can get the correct answer i.e. option (d).

व्याख्या:

कथन 1 सही है
: भारत में चाय और कॉफी दोनों के व्यावसायिक बागान अंग्रेजों द्वारा शुरू किए गए थे। भारत में, ब्रिटिश उद्यम और निवेश के साथ दक्षिणी भाग में 1820 के बाद वाणिज्यिक वृक्षारोपण शुरू हुआ। (नोट: कॉफ़ी को भारत में पहली बार बाबा बुदन द्वारा लाया गया था, लेकिन वाणिज्यिक बागान ब्रिटिश काल में आए थे)।

कथन 2 सही है: चाय और कॉफी दोनों अच्छी तरह से अपवाहित दोमट मिट्टी पर उगाए जाते हैं।

कथन 3 सही है: ये दोनों बागान फसलें हैं और इन्हें सस्ते श्रम की आवश्यकता होती है।

कथन 4 गलत है: कई राज्यों में चाय और कॉफी का भौगोलिक वितरण समान है। आमतौर पर यह माना जाता है कि कॉफी केवल कर्नाटक और केरल राज्यों में उगाई जाती है। लेकिन, पूर्वोत्तर क्षेत्र में कॉफी की खेती 1953 में असम के कछार जिले में शुरू की गई। स्थानीय समुदाय को झूम खेती से दूर करने के लिए गारो पहाड़ियों (मेघालय) में कॉफी की व्यावसायिक खेती शुरू की गई।
परिप्रेक्ष्य:

संदर्भ
: देश के विभिन्न हिस्सों में फसल-पद्धति भारतीय भूगोल में एक मुख्य विषय है।

प्रश्न फसलों की विभिन्न विशेषताओं की तुलना कर सकने की छात्र की क्षमता की जांच करता है। टिप, क्रॉस लिंक डिफरेंट सब्जेक्ट्स को यहां लागू किया जा सकता है।

कथन 1 कह रहा है कि दोनों के व्यावसायिक वृक्षारोपण भारत में अंग्रेजों द्वारा शुरू किए गए थे। यहां ऐतिहासिक परिप्रेक्ष्य को लागू करते हैं। अंग्रेजों ने भारत को अपने कारखानों के कच्चे माल के एक केंद्र के रूप में इस्तेमाल किया। उन्होंने मुख्य रूप से इन्हें लंदन में निर्यात के लिए खेती की, क्योंकि भारत की उष्णकटिबंधीय जलवायु के विपरीत भूमध्यसागरीय जलवायु फसल के लिए उपयुक्त स्थिति प्रदान नहीं करती है। तो, कथन 1 सही है और विकल्प (a) को विलोपित किया जा सकता है।

अब, कथन 4 की सत्यता की जाँच की जानी चाहिए, क्योंकि यह 'नहीं' के कारण एक चरम कथन प्रतीत होता है। कृषि का मूल ज्ञान बताता है कि कॉफी और चाय दोनों को लगभग समान दशाओं में उगाया जाता है। हम जानते हैं कि पूर्वोत्तर राज्यों में चाय बागान हैं, इसलिए इसकी संभावना बहुत कम है कि क्षेत्र में कॉफी बागान पूरी तरह से अनुपस्थित होंगे। अतः, कथन 4 को विकल्पों से विलोपित कर हम सही उत्तर यानि विकल्प (d) प्राप्त कर सकते हैं।

flag
Suggest Corrections
thumbs-up
0
BNAT
mid-banner-image
similar_icon
Similar questions
View More