CameraIcon
CameraIcon
SearchIcon
MyQuestionIcon


Question

Q. With reference to Technical Assistance Programme (TAP) by Indian government, consider the following statements:
  1. This programme is related to promoting the cotton value chain.
  2. This programme is implemented in African countries.
Which of the above statements is/ are correct?

Q. भारत सरकार द्वारा संचालित तकनीकी सहायता कार्यक्रम (टीएपी) के संदर्भ में, निम्नलिखित कथनों पर विचार करें:
  1. यह कार्यक्रम कपास मूल्य श्रृंखला को बढ़ावा देने से संबंधित है।
  2. यह कार्यक्रम अफ्रीकी देशों में लागू किया गया है।
उपरोक्त कथनों में कौन सा/से सही है/हैं?

  1. 1 only
    केवल 1

  2. 2 only
    केवल 2

  3. Both 1 and 2
    1 और 2 दोनों

  4. Neither 1 nor 2
    न तो 1 न ही 2


Solution

The correct option is C
Both 1 and 2
1 और 2 दोनों
Explanation:

India announced a second phase of Technical Assistance Programme (TAP) for cotton to five African Countries on World Cotton Day in October 2019.

Statement 1 is correct: India through its Technical Assistance Programme (TAB) for cotton provides assistance to strengthen both the agriculture and textile part of the cotton value chain in Africa through training and capacity-building of farmers, scientists, government officials and industry representatives and through the creation of cotton-related infrastructure.

Statement 2 is correct: This is the second phase of the TAP project, which will be scaled up in size and scope and will be introduced in five additional countries, namely Mali, Ghana, Togo, Zambia and Tanzania.
The Cotton TAP programme will now include 11 African nations, including the C4 (Benin, Burkina Faso, Chad and Mali). India has initiated a Technical Assistance Program (TAP) for cotton in six African countries, namely Benin, Burkina Faso, Chad, Malawi, Nigeria and Uganda, from 2012 to 2018.

व्याख्या:

भारत ने अक्टूबर 2019 में विश्व कपास दिवस पर पांच अफ्रीकी देशों को कपास के लिए तकनीकी सहायता कार्यक्रम (टीएपी) के दूसरे चरण की घोषणा की।

कथन 1 सही है: कपास के लिए अपने तकनीकी सहायता कार्यक्रम (TAB) के माध्यम से भारत, अफ्रीका में कपास मूल्य श्रृंखला के कृषि और कपड़ा भाग को मजबूत करने के लिए किसानों, वैज्ञानिकों, सरकारी अधिकारियों और उद्योग के प्रतिनिधियों के प्रशिक्षण और क्षमता निर्माण और कपास से संबंधित बुनियादी ढांचे के निर्माण के माध्यम से सहायता प्रदान करता है।

कथन 2 सही है: यह टीएपी परियोजना का दूसरा चरण है, जिसे आकार और दायरे में बढ़ाया जाएगा और इसे पांच अन्य देशों माली, घाना, टोगो, जाम्बिया और तंज़ानिया में प्रारम्भ किया जाएगा।
कॉटन टीएपी कार्यक्रम में अब 11 अफ्रीकी राष्ट्र शामिल होंगे, जिनमें C4 (बेनिन, बुर्किना फासो, चाड और माली) शामिल हैं।भारत ने 2012 से 2018 तक छह अफ्रीकी देशों, अर्थात् बेनिन, बुर्किना फासो, चाड, मलावी, नाइजीरिया और युगांडा में कपास के लिए एक तकनीकी सहायता कार्यक्रम (टीएपी) शुरू किया है।

flag
 Suggest corrections
thumbs-up
 
0 Upvotes


Similar questions
View More



footer-image