CameraIcon
CameraIcon
SearchIcon
MyQuestionIcon
MyQuestionIcon
Question

Q. New manual on drought management was issued by the Union Ministry of Agriculture in December 2016. With reference to the new manual, consider the following statements:

1. As per the new manual, rainfall, agriculture and soil moisture will be the parameters considered for determining a drought.
2. Centre will provide financial assistance to state governments only in case of "Severe" drought.
3. The financial aid would be provided from the National Disaster Relief Fund (NDRF).

Which of the statements given above is/are correct?

Q. दिसंबर 2016 में केंद्रीय कृषि मंत्रालय द्वारा सूखा प्रबंधन पर नया मैनुअल जारी किया गया था। नए मैनुअल के संदर्भ में, निम्नलिखित कथनों पर विचार करें:

1. नए मैनुअल के अनुसार,सूखे का निर्धारण करने के लिए वर्षा, कृषि और मिट्टी की नमी मानदंड होंगे।
2. केंद्र केवल "गंभीर" सूखे के मामले में राज्य सरकारों को वित्तीय सहायता प्रदान करेगा।
3. राष्ट्रीय आपदा राहत कोष (NDRF) से वित्तीय सहायता प्रदान की जाएगी।

उपर्युक्त कथनों में से कौन सा/से सही है / हैं ?

A

1 and 3 only
केवल 1 और 3
No worries! We‘ve got your back. Try BYJU‘S free classes today!
B

2 and 3 only
केवल 2 और 3
No worries! We‘ve got your back. Try BYJU‘S free classes today!
C

2 only
केवल 2
No worries! We‘ve got your back. Try BYJU‘S free classes today!
D

1, 2 and 3
1, 2 और 3
Right on! Give the BNAT exam to get a 100% scholarship for BYJUS courses
Open in App
Solution

The correct option is D
1, 2 and 3
1, 2 और 3
Explanation:

The Manual for Drought Management, released in December 2016 by the Union Ministry of Agriculture and Farmers Welfare, prescribes “new scientific indices and parameters” for a “more accurate assessment of drought” in the country.

Statement 1 is correct: The five categories of indices listed in the new Manual For Drought Management, issued by the Ministry of Agriculture includes rainfall, agriculture, soil moisture, hydrology, and remote sensing.

Statement 2 is correct: Moderate or mild drought is no longer eligible for relief funds from the Centre. The 2016 manual makes it clear that only if the calamity is of “severe nature” can the state governments submit a memorandum for financial assistance.

Statement 3 is correct: Natural calamities of cyclone, drought, earthquake, fire, flood, tsunami, hailstorm, landslide, avalanche, cloud burst, pest attack and cold wave and frost considered to be of severe nature by Government of India (GoI) and requiring expenditures by a state government in excess of the balances available in its own SDRF will qualify for immediate relief assistance from NDRF.

व्याख्या:

केंद्रीय कृषि और किसान कल्याण मंत्रालय द्वारा दिसंबर 2016 में जारी किया गया मैनुअल , देश में "सूखे के अधिक सटीक आकलन" एवं इसके प्रबंधन के लिए "नए वैज्ञानिक सूचक और मापदंडों" को निर्धारित करता है।

कथन 1 सही है: कृषि मंत्रालय द्वारा जारी किए गए नए मैनुअल फॉर ड्राई मैनेजमेंट में सूचीबद्ध, सूचकांकों की पांच श्रेणियों में वर्षा, कृषि, मिट्टी की नमी, जल विज्ञान और रिमोट सेंसिंग शामिल हैं।

कथन 2 सही है: मध्यम या हल्के सूखे की स्थिति में अब केंद्र से राहत राशि नहीं मिलेगी।
2016 की नियमावली यह स्पष्ट करती है कि यदि आपदा "गंभीर प्रकृति" की है तो राज्य सरकारें वित्तीय सहायता के लिए एक ज्ञापन सौंप सकती हैं।

कथन 3 सही है: भारत सरकार द्वारा गंभीर प्रकृति की मानी जानी वाली आपदाओं की सूची में ये शामिल हैं:
चक्रवात, सूखा, भूकंप, आग, बाढ़, सुनामी, भूस्खलन, हिमस्खलन, बादल फटना, कीट का हमला और शीत लहर और ठंढ की प्राकृतिक आपदाएँ ।

इन आपदाओं की स्थिति में राज्य सरकार द्वारा अपने स्वयं के एसडीआरएफ में उपलब्ध शेष राशि से अधिक व्यय की आवश्यकता होने पर एनडीआरएफ से तत्काल राहत सहायता ली जाएगी।


flag
Suggest Corrections
thumbs-up
0
BNAT
mid-banner-image
similar_icon
Similar questions
View More