पीआईबी विश्लेषण और सारांश हिंदी में - 29 May 2022 PIB Analysis in Hindi

29 मई 2022 : PIB विश्लेषण

विषय सूची:

  1. पीएम केयर्स फॉर चिल्ड्रन योजना
  2. राष्ट्रीय शिक्षक शिक्षा परिषद ने पोर्टल की शुरुआत की
  1. पीएम केयर्स फॉर चिल्ड्रन योजना

सामान्य अध्ययन: 2

सरकारी नीतियां एवं हस्तक्षेप:

विषय: विभिन्न जन कल्याणकारी योजनाएं।

प्रारंभिक व मुख्य परीक्षा: पीएम केयर्स फॉर चिल्ड्रन योजना के बारे में।

संदर्भ:

  • प्रधानमंत्री वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से पीएम केयर्स फॉर चिल्ड्रन योजना के तहत दी जाने वाली सुविधाओं को जारी करेंगे।

विवरण:

  • इस कार्यक्रम के दौरान बच्चों को पीएम केयर्स फॉर चिल्ड्रन की पासबुक और आयुष्मान भारत-प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना के तहत स्वास्थ्य कार्ड सौंपा जाएगा।

पीएम केयर्स फॉर चिल्ड्रन योजना:

  • प्रधानमंत्री द्वारा 29 मई 2021 को कोविड-19 महामारी की वजह से 11 मार्च 2020 से 28 फरवरी 2022 की अवधि के दौरान अपने माता-पिता दोनों या कानूनी अभिभावक या दत्तक माता-पिता या माता-पिता में से किसी एक को खोने वाले बच्चों की सहायता करने के उद्देश्य से पीएम केयर्स फॉर चिल्ड्रन योजना शुरू की गई थी।
  • इस योजना का उद्देश्य बच्चों के रहने एवं खाने की व्यवस्था करना, शिक्षा एवं छात्रवृत्ति के माध्यम से उन्हें सशक्त बनाना, उनके आत्मनिर्भर अस्तित्व के लिए 23 वर्ष की आयु प्राप्त करने पर उन्हें 10 लाख रुपये की वित्तीय सहायता प्रदान करना और स्वास्थ्य बीमा के माध्यम से उनका कल्याण सुनिश्चित करते हुए उनकी व्यापक देखभाल और सुरक्षा सुनिश्चित करना है।

योजना की विशेषताएं:

  • सावधि जमा: पीएम केयर्स 18 वर्ष की आयु पूरी करने वाले प्रत्येक बच्चे के लिए 10 लाख का कोष बनाने हेतु विशेष रूप से डिज़ाइन की गई एक योजना के माध्यम से योगदान देगा।
  • स्कूली शिक्षा: 10 साल से कम उम्र के बच्चों के लिए – बच्चे को नजदीकी केंद्रीय विद्यालय या निजी स्कूल में डे स्कॉलर के रूप में प्रवेश दिया जाएगा। अगर बच्चे का दाखिला किसी निजी स्कूल में होता है तो पीएम केयर्स से शिक्षा के अधिकार (RTE) के नियमों के मुताबिक फीस दी जाएगी।
  • स्वास्थ्य बीमा: सभी बच्चों को आयुष्मान भारत योजना (PM-JAY) के तहत लाभार्थी के रूप में नामांकित किया जाएगा, जिसमें पांच लाख रुपये का स्वास्थ्य बीमा कवर होगा।
  • यह योजना ऑनलाइन पोर्टल https://pmcaresforchildren.in के माध्यम से सुलभ है। सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को पोर्टल पर कार्यक्रम के लिए पात्र सभी बच्चों की पहचान करने और उन्हें पंजीकृत करने के लिए कहा गया है।
  • पोर्टल के माध्यम से कोई भी नागरिक प्रशासन को ऐसे बच्चे के बारे में सूचित कर सकता है जो इस योजना के तहत सहायता के लिए पात्र है।

पीएम केयर्स कोष:

  • प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में, मार्च 2020 में पीएम केयर्स यानी प्रधानमंत्री नागरिक सहायता और आपातकालीन स्थिति में राहत कोष बनाया गया था।
  • पीएम केयर्स एक समर्पित राष्ट्रीय कोष है जो भारत में कोविड-19 महामारी जैसी भयानक आकस्मिकताओं से निपटने के लिए बनाया गया है।
  • इस कोष का प्राथमिक उद्देश्य भविष्य की आपात स्थितियों या संकट से निपटना है।
  • पीएम केयर्स कोष का पदेन अध्यक्ष प्रधानमंत्री होता है तथा भारत सरकार के रक्षा मंत्री, गृह मंत्री और वित्त मंत्री पीएम केयर्स कोष के पदेन ट्रस्टी होते हैं।

प्रारंभिक एवं मुख्य परीक्षा की दृष्टि से कुछ महत्वपूर्ण तथ्य:

  1. राष्ट्रीय शिक्षक शिक्षा परिषद ने पोर्टल की शुरुआत की:
  • शिक्षा मंत्रालय के तहत राष्ट्रीय शिक्षक शिक्षा परिषद (NCTE) ने संस्थानों का निरीक्षण सहित पाठ्यक्रम के लिए आवेदन आमंत्रित करने के समय से लेकर मान्यता आदेश जारी करने के चरण तक HEI/TEI के शिक्षक शिक्षा पाठ्यक्रमों की मान्यता की पूरी प्रक्रिया को प्रभावी बनाने के लिए एक ऑनलाइन पोर्टल लॉन्च किया है।
  • हाल ही में लॉन्च किए गए इस पोर्टल पर 4 वर्षीय इंटीग्रेटेड टीचर एजुकेशन प्रोग्राम (ITEP) की प्रक्रिया पूरी की जाएगी।
  • यह पोर्टल राष्ट्रीय शिक्षक शिक्षा परिषद (NCTE) के कामकाज में एक बड़ा बदलाव लाएगा। इसका उद्देश्य एक स्वचालित मजबूत ढांचा प्रदान करना है, ताकि जवाबदेही, पारदर्शिता और कारोबारी सुगमता को बढ़ाया जा सके।

Leave a Comment

Your Mobile number and Email id will not be published.

*

*