IAS प्रारंभिक परीक्षा के उत्तर सहित प्रश्नपत्र

UPSC एक संवैधानिक संस्था है जो प्रतिवर्ष IAS परीक्षा आयोजित करता है। UPSC सिविल सेवा प्रारंभिक परीक्षा आमतौर पर मई और अगस्त माह के मध्य किसी दिन आयोजित की जाती है।

इस लेख में, हमने आपके लिये UPSC सिविल सेवा प्रारंभिक परीक्षा के प्रश्नपत्र, उत्तर के साथ संदर्भित किये हैं। प्रतियोगी इन प्रश्नपत्रों को हल कर सकते हैं और परीक्षा के पैटर्न और मानक को और भी बेहतर तरीके से समझ सकते हैं। प्रतियोगी  प्रारंभिक परीक्षा में पूछे जाने वाले प्रश्नों के प्रकार को भी भलीभाँति समझ सकते हैं।

IAS प्रारंभिक परीक्षा के उत्तर सहित प्रश्नपत्र

UPSC, सिविल सेवा परीक्षा आयोजित करने के बाद अपनी आधिकारिक वेबसाइट पर प्रतिवर्ष प्रश्नपत्र और उत्तर कुंजी जारी करता है। यह प्रतियोगियों को अपने प्रदर्शन का आकलन करने और उन अंकों की गणना करने में सहायता करता है जो, उन्होंने प्रारंभिक परीक्षा में आर्जित किये होंगे।

नीचे UPSC सिविल सेवा परीक्षा के पूर्व वर्षों के प्रश्न पत्र, परीक्षा विश्लेषण और प्रारंभिक परीक्षा के लिये उत्तर कुंजी के लिंक प्रदान किये गए हैं। सभी IAS परीक्षा के प्रतियोगियों को इसकी बेहतर समझ के लिये इन्हें संदर्भित करना चाहिये। 

लिंक किए गए लेख में UPSC Answer Key प्राप्त करें।

IAS प्रारंभिक परीक्षा के विगत वर्षों के प्रश्नपत्रों को हल करने से क्या लाभ हैं?

सिविल सेवा परीक्षा का प्रत्येक चरण बेहद प्रतिस्पर्धी है और परीक्षा में सफलता प्राप्त करने के लिये संपूर्ण तैयारी की आवश्यकता होती है। IAS परीक्षा की तैयारी करते समय सबसे अनुशंसित युक्तियों में से एक विगत वर्षों के प्रश्नपत्रों को हल करना है।

विगत वर्षों के प्रश्नपत्रों को हल करने की प्रवृत्ति प्रतियोगियों को अपने प्रतिस्पर्धियों पर बढ़त प्राप्त करने में सक्षम बनाता है तथा इन प्रश्नपत्रों को हल करने के कई प्रमुख लाभों में से कुछ नीचे दिये गए हैं:

  • यह  प्रश्नपत्रों के मानक और जटिलता का विश्लेषण करने में मदद करेगा।
  • घर पर इन प्रश्नपत्रों को हल करने का प्रयास करने से प्रतियोगियों को परीक्षा कक्ष के माहौल का अनुभव करने और उन्हें अंतिम परीक्षा के लिये आत्मविश्वास से परिपूर्ण होने का अवसर मिलेगा।
  • वे उन विषयों पर भी मजबूत पकड़ बनाने में सक्षम होंगे जो परीक्षा के दृष्टिकोण से अधिक महत्त्वपूर्ण हैं।
  • प्राथमिक स्तर के प्रतियोगियों के लिये, यह बेहद सहायक हो जाता है क्योंकि वे विभिन्न खंडों के आधार पर सटीक परीक्षा पैटर्न और प्रश्नों के विभाजन को समझ सकते हैं।

सम्बंधित लिंक्स:

UPSC Syllabus in Hindi UPSC Full Form in Hindi
UPSC Books in Hindi UPSC Prelims Syllabus in Hindi
UPSC Mains Syllabus in Hindi NCERT Books for UPSC in Hindi

Leave a Comment

Your Mobile number and Email id will not be published. Required fields are marked *

*

*